राजस्थान: बजरी खनन में सुप्रीम कोर्ट से कोई राहत नहीं

जोधपुर। राजस्थान में बजरी खनन के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने कोई राहत नहीं दी है। कोर्ट ने इस मामले में कमेटी को छह सप्ताह के अंदर अपनी रिपोर्ट जमा करने को कहा है। कोर्ट छह सप्ताह बाद मामले पर सुनवाई करेगा। अभी बजरी खनन छह सप्ताह और बंद रहेगा। कोर्ट ने इस मामले में निर्देश देते हुए कहा कि जब तक एनवायरमेंट अप्रेजल कमेटी की रिपोर्ट नहीं आ जाती तब तक प्रदेश में बजरी खनन की अनुमति नहीं दी जा सकती। पिछले 16 नवंबर को राजस्थान में बजरी खनन पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी थी। बजरी खान मालिकों की आठ याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए जस्टिस मदन बी लोकुर की अध्यक्षता वाली बेंच ने कहा था कि बिना पर्यावरण मंजूरी के बजरी खनन नहीं की जा सकती है। पर्यावरण मंत्रालय से मंजूरी के बाद ही खनन संभव है।


correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES

%d bloggers like this: