सांस्कृतिक प्रस्तुतियों में भी दिखी जैविक और यौगिक खेती की झलक

सम्मेलन के सायंकालीन संध्या डायमंड हॉल में सांस्कृतिक प्रस्तुतियां
आबू रोड, 17 दिसम्बर, निसं। ग्राम विकास सम्मेलन के दौरान महाराष्ट्र, गुजरात तथा उड़ीसा से आये कलाकारों ने अपनी प्रस्तुतियों से लोगों का मन मोह लिया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जैविक खेती को बढ़ावा देने तथा ब्रह्माकुमारीज संस्था के ग्राम विकास प्रभाग की यौगिक खेती के बारे में नृत्य प्रस्तुतियां के जरिये इसे बढ़ावा देने पर शानदार मंचन किया गया। रासायनिक खादों के प्रभाव एवं दुष्प्रभाव को भी दर्शाते हुए यह स्पष्ट तस्वीर पेश की कि यदि जैविक और यौगिक खेती का प्रयोग किया जाये तो निश्चित तौर पर एक नये भारत का निर्माण हो सकता है। इसके साथ ही तन के साथ मन भी स्वस्थ रह सकता है। इसके साथ ही सत्यम शिवम् सुन्दरम, मेरा भारत महान तथा हमारे देश की धरती सोना उगले उगले हीरा मोती के गानों पर जमकर प्रस्तुतियां दी। देर रात तक चले इस प्रस्तुतियों में लोगों ने जमकर लुत्फ उठाया। इसके साथ ही हम जैविक और यौगिक खेती के बारे में जागरूकता प्राप्त की।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: