जन्म से नासाज ‘दिल’

- आरबीएसके टीम निभा रही दिल का रिश्ता - स्वास्थ्य विभाग ने 10 बच्चों का करवाया सफल नि:शुल्क ऑपरेशन श्रीगंगानगर। जिले के घड़साना खण्ड के अनेक मासूम जन्मजात हृद्य रोग से जूझ रहे हैं, यानि वे जीवन के साथ ही दिल की बीमारी लेकर पैदा हुए। हालांकि अब राहत की बात ये है कि इनके के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम वरदान साबित हुआ है। आरबीएसके टीम यहां हर दिन गांव-गांव जाकर आंनगबाड़ी व स्कूलों में बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कर रही है। टीम ने न केवल ऐसे बच्चों को तलाश किया बल्कि उनका उच्च चिकित्सा संस्थानों में पूर्णत: नि:शुल्क उपचार भी करवाया। बहरहाल, यहां चिन्हित 46 बच्चों में से 10 बच्चों का सफल ऑपरेशन करवाया गया है और चार को दवाओं के जरिए राहत दिलाई गई है। जल्द ही सात बच्चों का जयपुर में ऑपरेशन करवाया जाएगा, वहीं गुरुवार को रोजड़ी निवासी 14 वर्षीय मनफूल पुत्र लालूराम की फाइल तैयार कर जयपुर भेजी गई है, जिसका शुक्र-शनिवार को ऑपरेशन करवाया जाएगा।

correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi