लोक-रिवाज में आज जोधपुर से विवाह गीत वीरा के बारे में…देखें वीडियो में

जोधपुर। राजस्थान के मारवाड़ हिस्से में शामिल जोधपुर का अपना एक रंग है। यहां मेले-त्यौहार और विवाह के अपने रंग है। ये दुनियां के किसी अन्य हिस्से में देखने को नहीं मिलेंगे। तेजी से भागती जिंदगी और उस पर तकनीक के युग ने विवाह गीतों के प्रस्तुतिकरण का तरीका भले ही बदल दिया हो लेकिन आज भी जोधपुर परकोटे के भीतर पुष्करणा ब्राहमण समाज के लोक-रिवाजों में उस ताजगी को महसुस किया जा सकता है। यहां विवाह केवल दो लोगों की नई जिंदगी शुरू करने का एक मौका नहीं बल्कि कई परिवारों का मिला-जुला उत्सव है। लोक रवायतों में विवाह के दौरान खासतौर पर बहने अपने भाई के लिए वीरा गीत गाती है। यहां बता दें कि वीरा के मतलब भाई से है।

correspondent

Anand Joshi

Anand Joshi