भागे बाल अपचारी

कलक्टर से पांच दिन पहले गार्ड मांगा था, चार बाल अपचारी खिड़की तोड़कर भाग निकले
– दस घंटे में ही चारों को फिर पकड़ लिया गया
श्रीगंगानगर। समाज कल्याण विभाग द्वारा नवस्थापित भवन में संचालित किशोर सम्प्रेषण गृह का जिला कलक्टर ज्ञानाराम पिछले सप्ताह बाल दिवस के अगले ही दिन 15 नवम्बर को वार्षिक परीक्षण करने के लिए आये थे। इससे एक दिन पूर्व अतिरिक्त जिला कलक्टर ने भी इस भवन में आयोजित बाल दिवस समारोह में शिरकत की थी। दोनों अधिकारियों से किशोर सम्प्रेषण गृह के अधिकारियों ने अवगत करवाया कि यहां पर सुरक्षा के लिए सिर्फ एक ही सिक्योरिटी गार्ड है। सम्प्रेषण गृह में कईं किशोरों को निरुद्ध किया हुआ है। ऐसे में एक सिक्योरिटी गार्ड नाकाफी है। पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के लिए समाज कल्याण विभाग से एक और सिक्योरिटी गार्ड उपलब्ध करवाया जाये। कलक्टर ज्ञानाराम के निरीक्षण के समय समाज कल्याण अधिकारी बीपी चंदेल सहित कईं आलाधिकारी भी मौजूद थे। इन अधिकारियों ने आश्वासन दिया था कि एक सिक्योरिटी गार्ड जल्दी ही दे दिया जायेगा। लेकिन इस सिक्योरिटी गार्ड की कोई व्यवस्था तत्काल नहीं की गई। आज सोमवार बड़े तड़के लगभग दो बजे इस सम्प्रेषण गृह की एक खिड़की की ग्रिल को तोड़कर चार बाल अपचारी भाग निकले। लगभग आधे घंटे बाद इसका पता चला, जिस पर तुरंत ही पुलिस को सूचना दी गई। रात को ही पुलिस ने बस अड्डा और रेलवे स्टेशन को चैक करते हुए तीन बाल अपचारियों को पुन: पकड़ लिया। एक बाल अपचारी किसी तरह से शहर से बाहर निकल गया और मुकलावा थाना क्षेत्र में अपने एक रिश्तेदार के पास चला गया। पुलिस व किशोर सम्प्रेषण गृह के अधिकारियों द्वारा परिवार पर दबाव बनाये जाने से इस बाल अपचारी को भी आज दोपहर लगभग 12 बजे उसके परिवार वाले लेकर आ गये।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: