एनआरआई मर्डर केस: युवती समेत चार काबू

– मृतक का अन्तिम संस्कार, आज करेगी पुलिस खुलासा
श्रीगंगानगर। एनआरआई हरदीप सिंह ब्लाइंड मर्डर केस सुलझाने में पुलिस को सफलता मिल गई है। एक युवती सहित चार जनों को पुलिस ने आज बड़े तड़के अलग-अलग स्थानों पर छापे मारकर काबू कर लिया। इनसे दिनभर गजसिंहपुर और मुकलावा थानों में कड़ी पूछताछ पुलिस अधिकारी करते रहे। इस बीच दोपहर को हरदीप सिंह निवासी चक 31 एमएल के परिवार वालों को पुलिस अधिकारियों ने उसका अन्तिम संस्कार करने के लिए राजी कर लिया।
हरदीप सिंह (42) की नृशंस हत्या में चक 44 आरबी की एक युवती सहित तीन जने मुख्य रूप से शामिल रहे हैं। बताया जाता है कि विगत शनिवार रात को चक 9 आरबी-36 बीबी के बीच हरदीप सिंह को उसकी वरना गाड़ी से उतारकर पीट-पीटकर हत्या करने वालों में यह चारों शामिल थे। हरदीप सिंह ने कथित रूप से तीन शादियां की हुई थीं। उसकी एक पत्नी चक 31 एमएल में उसके पैतृक निवास में अपने पुत्र के साथ रहती है। दूसरी पत्नी अकविन्द्र कौर हॉलैंड की आर्मी में सुपरवाइजर के पद पर कार्यरत रही है। अकविन्द्र कौर श्रीगंगानगर की होमलैंड सिटी में अपनी कोठी में आती-जाती रहती है। अभी भी वह हॉलैंड ही गई हुई थी, जो कल ही वहां से आई है। शनिवार की रात को हरदीप सिंह की हत्या हो जाने के बाद पुलिस को उसकी गाड़ी में एक हल्फनामा मिला, जिसके अनुसार उसने यहां जवाहरनगर क्षेत्र में रहने वाली एक नर्स से भी शादी कर रखी थी। इसके अलावा भी हरदीप सिंह के ऐसे कईं और चक्कर भी बताये जाते हैं। घटना वाले दिन हरदीप सिंह अपराह्न 3.30 बजे चक्की से आटा लेकर चक 31 एमएल में अपने घर आया था। इसके बाद वह गाड़ी लेकर पदमपुर के लिए रवाना हो गया। रास्ते में उसने चक 32 एमएल के ठेके से शराब खरीदी। तत्पश्चात् पदमपुर से वह सायं करीब 6 बजे रवाना हुआ। इसके बाद वह लगभग 7 बजे चक 9 आरबी-36 बीबी के बीच बेहद चोटिल-गम्भीर अवस्था में मिला, जिसकी बाद में रात्रि डेढ़ बजे श्रीगंगानगर के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि कल बुधवार तक इस हत्याकांड का पूरा खुलासा कर दिया जायेगा।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: