गुड़ पापड़ी : स्वाद के साथ स्वास्थ्य लाभ भी, इस विधि से बनाएं

जैसलमेर । सर्दी का मौसम शुरू हो गया है । लोक खाने पीने के शौकिन है और इस मौसम में विशेष मजा होता है । तिल, गुड़ और मूंगफली का ज्यादा उपयोग होता है । सर्दी का एक आईटम है गुड़ पापड़ी । सर्दी-जुखाम मिटाने के लिए गुड़ की पापड़ी खाना काफी फायदेमंद होता है। बाजरों में विभिन्न क्वालिटी में मिलती है । लेकिन नीचे दी जा रही विधि से घर पर बनी गुड़ पापड़ी का मजा ही कुछ और होगा । बनाकर चख लेना । सामग्री  गेहूं का आटा- 1 कप (150 ग्राम) गुड़- ½ कप (125 ग्राम, कद्दूकस किया हुआ) घी- ½ कप (125 ग्राम) बादाम- 5 से 6 (बारीक कटे हुए) इलाइची पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच जायफल- 1 विधि  आटा भूनिए गुड़ पापड़ी बनाने के लिए सबसे पहले आटे को भूनना होता है। आटा भूनने के लिए, पैन गरम कीजिए, थोड़ा सा घी छोड़कर बाकी घी पैन में डालकर पिघला लें। फिर पिघले घी में आटा डालें और उसे लगातार चलाते हुए गोल्डन ब्राउन होने तक भूनें। गैस मध्यम और धीमी रखिए। जब आटे से अच्छी खुश्बू आने लगे, गोल्डन ब्राउन दिखने लगे और घी अलग होने लगे तब आटा भुनकर तैयार हो जाता है। भुने हुए आटे को पैन में से अलग निकालकर रख दें। आटे में इलाइची पाउडर डाल दीजिए। फिर, इसमें जायफल भी कद्दूकस करके मिला दीजिए। पापड़ी जमाने के लिए एक प्लेट लेकर उसे थोड़े से घी से चिकना कर लीजिए। आटे में गुड़ मिक्स कीजिए कढ़ाई को गैस से उतारकर जाली स्टेन्ड पर रख लीजिए। आटे में कद्दूकस किया गुड़ डालकर मिक्स कर लीजिए। गुड़ को आटे में अच्छे से मिलने और पिघलने तक मिक्स करते रहिए। जब आटा-गुड़ अच्छे से मिलकर एक हो जाए, तब इसे जमा दीजिए। पापड़ी जमाने के लिए मिश्रण को चिकनी की हुई प्लेट में डाल लीजिए। इसे चमचे से दबाकर एक जैसा कर लीजिए। इसके ऊपर बारीक कटे बादाम डाल दीजिए और चम्मच से दबाकर चिपका दीजिए। फिर जमाए हुए मिश्रण पर चाकू से काटने के निशान लगा दीजिए और मिश्रण को थोड़ा सा ठंडा होने दीजिए। गुड़ पापड़ी के जमकर सैट होने के बाद, टुकड़ों को अलग करके एक प्लेट में निकाल लीजिए। आपकी स्वाद से भरपूर गुड़ पापड़ी बनकर तैयार है।  

correspondent

anand m vasu

anand m vasu