अब हर महिने बिल, बिजली की पहली स्लेब, छोटे उपभोक्ताओं को राहत

— नियामक आयोग के निर्देश 1 अप्रैल 2018 से बिजली का बिल हर महीने दिया जाए
— तय तारीख से 10 दिन पहले बिल का भुगतान तो 0.35 प्रतिशत की छूट
जयपुर। अगले साल 1 अप्रैल 2018 से बिजली का बिल हर महीने दिया जाएगा जिससे उनकी बिजली खपत कम होने के कारण उनके पहले स्लेब की यूनिट का चार्ज लगेगा। विद्युत नियामक आयोग के इस कदम से छोटे उपभोक्ताओं को राहत प्रदान मिलेगी । नियामक आयोग ने तीनों बिजली कंपनियों की टैरिफ याचिका पर निर्देश दिए हैं कि अगले साल 1 अप्रैल 2018 से बिजली का बिल हर महीने दिया जाए।
0.35 प्रतिशत की छूट
इसके अलावा अगर बिजली का बिल तय तारीख से 10 दिन पहले बिल जमा करा दिया जाएगा तो 0.35 प्रतिशत की छूट मिलेगी। इसी तरह बड़ी औद्योगिक इकाइयों को डिस्कॉम की बिजली का ज्यादा उपभोग करने को प्रेरित करने के लिए 50 प्रतिशत से ज्यादा लोड फैक्टर पर 15 पैसे प्रति यूनिट देने के निर्देश भी दिए।
मीटरिंग, बिलिंग और रेवेन्यू डिस्कॉम की रीढ़ की हड्डी
इसके अलावा विद्युत नियामक आयोग ने मीटरिंग, बिलिंग और रेवेन्यू कलेक्शन को डिस्कॉम की रीढ़ की हड्डी माना है। इसके ऑटोमेशन सुधार पर जोर दिया है। डिस्कॉम्स को ऑटोमेटिक मीटर रीडिंग, एसएमएस से बिजली बिलों की सूचना, बिलों के ऑनलाइन भुगतान को प्राथमिकता देने के निर्देश दिए हैं।


Desert Time

correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: