हमारी आनासागर झील होगी सबसे सुन्दर

राजस्थान झील संरक्षण एवं विकास प्राधिकरण ने जारी किए दिशा-निर्देश
मलबा, अतिक्रमण, पानी को दूषित करने तथा झील को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियों पर होगी कार्यवाही
झील में हो सकेगी बोटिंग, एडवेंचर वाटर गेम, फिश्िंाग, बर्ड सेंच्यूरी आदि गतिविधियां
झील के बाहर फिशिंग, बर्ड वाचिंग, हाईकिंग, घुडसवारी सहित अन्य गतिविधियां भी की जा सकेंगी संचालित

अजमेर। अजमेर शहर की शान ऎतिहासिक आनासागर झील के संरक्षण और विकास सहित सौंदर्यीकरण के लिए राज्य सरकार ने ठोस कदम उठाए हैं। अब झील में मलबा डालने, अतिक्रमण करने, पानी को दूषित कर झील को नुकसान पहुंचाने वाली गतिविधियां पूर्णतः प्रतिबंधित रहेंगी। ऎसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही अमल में लायी जाएगी। झील को पर्यटन की दृष्टि से विकसित करने तथा तय मानकों के अनुसार विकास करने के लिए यहां बोटिंग, एडवेंचर वाटर गेम, बर्ड सेंच्यूरी आदि गतिविधियां संचालित की जा सकेंगी। जिला कलक्टर श्री गौरव गोयल ने बताया कि आनासागर झील के संरक्षण और विकास के लिए राजस्थान झील संरक्षण एवं विकास प्राधिकरण ने विस्तृत दिशा- निर्देश जारी किए हैं। इन निर्देशों की पालना सुनिश्चित कर झील को और अधिक सुन्दर व पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। इस संबंध में सभी संबंधित विभागों को निर्देशित किया जा रहा है।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: