श्रीगंगानगर स्माल क्राइम न्यूज

नर्सिंग के छात्र ने गला काटकर आत्महत्या की संगरिया थाना क्षेत्र के गावं रासूवाला के एक युवक ने बुधवार को बीकानेर में अपनी बुआ के घर में गला काटकर आत्महत्या कर ली। यह युवक घर की छत पर बने टॉयलेट में गया, जहां उसने तेजधार वाले ब्लेड से अपना गला काट लिया। यह युवक काफी देर तक नीचे नहीं आया, तो बुआ उसे देखने के लिए ऊपर छत पर गई। बुआ की नजर टॉयलेट के गेट के नीचे से बाहर बहकर आ रहे खून पर पड़ी, तो वह कांप उठी। उसके द्वारा शोर मचा देने पर आसपास के पड़ोसी भागकर आये। उन्होंने टॉयलेट का गेट तोड़ दिया। अंदर युवक तडफ़ रहा था, जिसे वे तुंरत ही पीबीएम अस्पताल में ले गये। अस्पताल पहुंचते ही युवक की मौत हो गई। बीछवाल थाना क्षेत्र में करणीनगर औद्योगिक क्षेत्र पुलिस चौकी के अधीन इन्दिरा कॉलोनी में यह घटना जसवीर कौर जट सिख के घर में सुबह लगभग 10 बजे हुई। इस मामले की जांच कर रहे बीछवाल थाना के सब इंस्पेक्टर किशोर सिंह ने बताया कि मृतक युवक बलजिन्द्र सिंह (21) पुत्र गुरलाल सिंह जट सिख संगरिया थाना क्षेत्र के गांव रासूवाला का निवासी है, जो छह-सात वर्षांे से यहां इन्दिरा कॉलोनी में अपनी बुआ जसवीर कौर के पास रहकर पढ़ाई कर रहा था। वह एमएन इंस्टीट्यूट में नर्सिंग के चौथे स्मेस्टर का विद्यार्थी था। वह सुबह करीब 10 बजे टॉयलेट में गया और अंदर से चिटकनी बंद कर टॉयलेट से गला काट लिया। उसके द्वारा खुदकुशी करने के कारण का अभी पता नहीं चला है। उसके कमरे की तलाशी ली गई, जहां कोई सुसाइड नोट नहीं मिला। खास बात ये है कि मृतक बलजिन्द्र सिंह का मामा हरबंस सिंह, बीछवाल थाना में ही एएसआई है और बीकानेर की रामपुरिया बस्ती में रहता है। शाम को पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर शव परिवारजनों को सौंप दिया, जिसे वे अन्तिम संस्कार के लिए रासूवाला ले गये हैं। इस सम्बंध में मर्ग दर्ज की गई है। अब अपनी गलती पर पछता रहा है पटवारी सीजीआर मॉल के पीछे जवाहरनगर के सैक्टर 7 में रहने वाला पटवारी कैलाश राजपूत अब अपनी गलती पर पछता रहा है। वह बार-बार पुलिस के समक्ष दुहाई दे रहा है कि यह सब उसके नशा किये होने के कारण हो गया, लेकिन पुलिस अब उस पर कोई रियायत करने की स्थिति मेें नहीं है। सैक्टर 7 के ही निवासी स्पेयर पार्ट्स व्यवसायी प्रतापचंद सोनी से सोमवार की रात को अपने घर के पास ही एक लाख की नकदी से भरा बैग लूट लेने के आरोप में कैलाश राजपूत (50) को आज जवाहरनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जांच कर रहे सब इंस्पेक्टर राधेश्याम सांखला ने बताया कि कैलाश राजपूत को कल कोर्ट में पेश कर रिमांड मांगा जायेगा। बता दें कि कैलाश राजपूत मिर्जेवाला का पटवारी है। सोमवार की रात लगभग 9 बजे प्रतापचंद सोनी घर जाते समय सीजीआर मॉल के पीछे की गली में एक वैरायटी स्टोर पर बच्चों के लिए सामान खरीदने के लिए रुका था। वहीं पड़ोस में रहने वाला पटवारी कैलाश राजपूत उससे बेवजह उलझ गया। उसके कंधे पर लटका हुआ बैग छीनकर वह अपने घर में घुस गया। इसके बाद कैलाश राजपूत ने काफी बवाल मचाया। यहां तक कि उसे पकडऩे आये पुलिसकर्मियों के साथ भी उसने हाथापाई की और एक पुलिसकर्मी की वर्दी फाड़ दी। पानी के विवाद में पति की हत्या करने का इल्जाम एक महिला ने अपने खेत पड़ोसियों पर उसके पति की हत्या करने का आरोप लगाया है। हत्या का कारण खेत में पानी लगाने का विवाद बताया गया है। यह घटना जिले के रावला थाना क्षेत्र में चक 10 केडी की है। पुलिस के अनुसार इस चक में रहने वाली बिन्दु कौर पत्नी मलकीत सिंह रायसिख का आरोप है कि विगत 7 सितम्बर को उनके खेत के पास ही खेत काश्त करने वाले कालूराम तथा रमेश ने उसके पति को पहले शराब पिलाई और फिर गले में फंदा डालकर उसे लटका दिया। हत्या को आत्महत्या का रूप देने का प्रयास किया। बिन्दू कौर के मुताबिक उसे तुरंत ही पता चल गया था कि उसके पति को फंदे पर लटका दिया गया है। वह तथा उसके साथ परिवारजन मौके पर गये, जहां उन्होंने मलकीत ङ्क्षसह को फंदे से उतारा। तब उसके सांस चल रहे थे। मलकीतसिंह को वे इलाज के लिए बीकानेर के पीबीएम अस्पताल में ले गये। पुलिस के अनुसार करीब 32 वर्षीय मलकीत सिंह 15 दिन तक जिन्दगी-मौत से संघर्ष करता रहा। विगत 22 सितम्बर को उसकी मौत हो गई। तब पुलिस ने मर्ग रिपोर्ट दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम करवाया था। इसके बाद बिन्दू कौर ने कल शाम थाने में आकर रिपोर्ट देते हुए बताया कि कालूराम तथा रमेश अकसर खेत में पानी लगाने को लेकर उसके पति के साथ विवाद-झगड़ा करते रहते थे। उसे जान से मार देने की धमकियां भी देते थे। मृतक मलकीत सिंह ने इस चक में किसी विनोद बिश्रोई की जमीन को पांचवें हिस्से पर काश्त करने के लिए ले रखा था। युवक की संदिग्ध अवस्था में ट्रेन से कटकर मौत गजसिंहपुर कस्बे में आज सुबह एक युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में ट्रेन से कटकर मौत हो गई। इस युवक का रेल पटरी पर सिर्फ धड़ ही मिला। उसका सिर-चेहरा काफी तलाश करने पर भी नहीं मिला। जीआरपी का कहना है कि इस युवक ने खुद ट्रेन के नीचे आकर आत्महत्या की है। लेकिन परिवार वालों ने संदेह जताया है कि या तो हत्या की गई है अथवा उसे आत्महत्या के लिए किन्हीं लोगों ने उकसाया है। यह शक जताये जाने पर जीआरपी ने शव का मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया। जीआरपी के मुताबिक बुधवार सुबह करीब साढ़े 6 बजे एक युवक गजसिंहपुर से रायसिंहनगर की तरफ स्टेशन से कुछ ही दूरी पर होम सिग्नल के पास ट्रेन से कट गया। स्टेशन मास्टर की सूचना पर जीआरपी प्रभारी धन्ने सिंह राठौड़ मौके पर पहुंचे। हालांकि स्थानीय पुलिस पहले ही घटनास्थल पर आ गई थी। स्थानीय पुलिस तथा मौके पर जुटे लोगों ने ट्रेन से कटे युवक की पहचान कर ली। करीब 30 वर्षीय यह युवक जगदीश नायक कस्बे के वार्ड नं. 2 का निवासी था, जो ड्राइवरी करता था। उसके हाथ पर जगदीश तथा उसकी पत्नी का नाम मंजू गुदे हुए थे। पुलिस व लोगों ने रेल पटरी तथा उसके आसपास की झाडिय़ों मेें जगदीश के सिर-चेहरे के हिस्से को काफी तलाश किया, लेकिन वह नहीं मिला। जीआरपी का कहना है कि जगदीश ने अपनी गर्दन पटरी पर रख दी थी, जिससे उसके शरीर के दो टुकड़े हो गये। गर्दन के ऊपर के हिस्से के या तो चीथड़े उड़ गये या फिर ट्रेन के साथ कहीं दूर घसीटकर चला गया। लिहाजा मौके की कार्रवाई के बाद धड़ को ही हॉस्पीटल में लाया गया। परिवारजनों के शक को देखते हुए तीन डॉक्टरों के बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाया गया है। देर रात स्थानीय जीआरपीथाना में मर्ग रिपोर्ट दर्ज की गई। नहर मेें अज्ञात का शव बरामद श्रीकरणपुर थाना क्षेत्र में एक अज्ञात व्यक्ति की नहर में पानी के साथ बहकर आई लाश बरामद हुई है। पुलिस के अनुसार गांव बुर्जवाला के पास यह लाश कल शाम को नहर में तैरते हुए देखी गई। बुर्जवाला के गुरदीप सिंह की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। लाश को बाहर निकाला गया, जो कि काफी गली-सड़ी हालत में थी। पुलिस ने कहा कि यह लाश शिनाख्त के लायक नहीं है। गुरदीप सिंह की ओर से ही मर्ग रिपोर्ट दर्ज कर शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं।

correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES