करवा चौथ : सुहाग छोड़ अमर हुआ पति

— करवा चौथ के दिन पति के शव को तिलक लगा पत्नी ने किया विदा
— शहीद जवान का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार
झूंझुनू । जिस करवा चौथ को सुहागिन स्त्रियां अपने पति की लंबी उम्र के लिए व्रत और पूजा अर्चना करती है उसी करवा चौथ को झुंझुनू जिले में एक जवान की पत्नी ने अपनी पति के शव को तिलक लगा कर विदा किया तो समूचा वातावरण सहानुभूति का बन गया । इस सहानुभूति ने उस अदम्य साहसी महिला को सैल्यूट किया जिसने करवा चौथ के दिन अपने पति के शव को तिलक लगाया ।
शहीद जवान का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार
अरुणाचल के तवांग के पास दुर्घटनाग्रस्त हुए एयरफोर्स के MI-17 हेलिकॉप्टर हादसे में झुंझुनूं जिले के कासनी गांव के शहीद हुए जवान सतीश खांडा का सैन्य सम्मान से अंतिम संस्कार किया गया। करवाचौथ के दिन पति का शव पत्नी ने तिलक लगाकर विदा किया। शहीद की पत्नी शवयात्रा के दौरान बेटे को गोद में लिए आग-आगे चली। ढाई साल के बेटे मासूम हर्ष ने मुखाग्नि दी तो अंत्येष्टि स्थल पर मौजूद सभी की आंखें नम हो गई।
हेलीकॉप्टर क्रैश में शहीद
एयरफोर्स में सार्जेंट सतीश अरुणाचल प्रदेश के पटोगर में तैनात थे। दो दिन पहले सेना की चौकियों पर केरोसीन की सप्लाई के दौरान उनका हेलीकॉप्टर क्रैश होने सात जवान शहीद हो गए थे। सतीश उनमें से एक था। सतीश की पार्थिव देह वायु सेना के फ्लाइंग ऑफिसर निखिल पंत लेकर आए। सतीश को अंतिम विदाई देने उमड़े ग्रामीणों ने सतीश अमर रहे, इंडियन एयरफोर्स जिंदाबाद, भारत माता के जयकारे लगाए। वायु सेना व पुलिस के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया।
पत्नी अंतिम यात्रा में शामिल
जवान सतीश की अंतिम यात्रा में पत्नी किरण अपने बेटे को गोद में लेकर शामिल हुई। अंतिम यात्रा के साथ अंत्येष्टि स्थल तक गई और जांबाज पति को अंतिम विदाई दी।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: