मटर कचौड़ी

मटर कचौड़ी बनाने के लिए क्रश किए हुए मटर को मसालों के मेल के साथ चटपटा बनाया गया है, जिनमे से कलौंजी का स्वाद उभर कर आता है। साथ ही आपको इसके भरवां मिश्रण का नरम रुप भी पसंद आएगा, जो करारी परत के साथ बेहद अच्छी तरह जजता है। यह शानदार व्यंजन आप हाई टी पार्टी में परोसें, आप के मेहमान को ज़रुर पसंद आएगा।
विधि
आटे के लिए सभी सामग्री को एक गहरे बाउल में मिला लें और ज़रुरत मात्रा में गुनगुने पानी का प्रयोग कर हल्का नरम आटा गूँथ लें। ४-५ मिनट तक अच्छी तरह गूँथ लें। आटे को गीले सूती कपड़े से ढ़ककर १५ मिनट के लिए रख दें। हरे मटर के भरवां मिश्रण के लिए हरे मटर, हरी मिर्च और अदरक को मिलाकर, बिना पानी के प्रयोग के, मिक्सर में पीसकर दरदरा मिश्रण बना लें। एक तरफ रख दें। एक गहरे नॉन-स्टिक पॅन में तेल गरम करें, कलौंजी, सौंफ, तेज़पत्ता और हरे मटर का मिश्रण डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, धिमी आँच पर ६ से ७ मिनट तक पका लें। लाल मिर्च पाउडर, गरम मसाला, धनिया और नमक डालकर अच्छी तरह मिला लें और बीच-बीच में हिलाते हुए, मध्यम आँच पर और १ मिनट तक पका लें। तेज़पत्ता निकालकर फेंक दें। भरवां मिश्रण को १२ भाग में बाँट लें और एक तरफ रख दें।
आगे बढ़ने कि विधी आटे को १२ भाग में बाँट लें। आटे के प्रत्येक भाग को ६३ मिमी। (२१/२") व्यास के गोल आकार में बेल लें। हरे मटर के भरवां मिश्रण के १ भाग को बीच में रखें। सभी किनारों को बीच मे साथ लाकर अच्छी तरह बंद कर लें और बचा हुआ आटा निकाल लें। भरी हुई कचौड़ी को दुबारा ७५ मिमी। (३") व्यास के गोल आकार में बेल लें, लेकिन ध्यान रखें कि किनारों से भरवां मिश्रण ना निकले। कचौड़ी के बीच के भाग को अपने अंगूठे से हल्का दबा लें। विधी क्रमांक १ से ६ को दोहराकर ११ और कचौड़ी बना लें। एक गहरी नॉन-स्टिक कढ़ाई में तेल गरम करें और एक बार में ६ कचौड़ी डालकर मध्यम आँच पर ४ मिनट के लिए तलें। आँच को धिमा कर और ५-६ मिनट के लिए तलें। तेल सोखने वाले कागज़ पर निकाल ले। विधी क्रमांक ८ से ९ को दोहराकर ६ और कचौड़ी तल लें।

correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES