नागौर की रेणुका को प्रधानमंत्री से मिला निबंध लेखन का प्रथम पुरस्कार

-नई दिल्ली के विज्ञान भवन में स्वच्छ भारत मिशन के तीन वर्ष पर स्वच्छता ही सेवा है समारोह
-चित्तौड़गढ़ जिले के देश में 15वें एवं राज्य में शीर्ष स्थान पर रहने पर जिला कलेक्टर
-श्री इंद्रजीत सिंह समारोह में विशेष रूप से आमंत्रित

जयपुर। गांधी जयंती पर नई दिल्ली के विज्ञान भवन में सोमवार को स्वच्छ भारत मिशन के तीन वर्ष पूरे होने पर प्रधानमंत्राी श्री नरेन्द्र मोदी के मुख्य आतिथ्य में आयोजित स्वच्छता ही सेवा है समारोह में राजस्थान के नागौर जिले की सुश्री रेणुका पुरोहित को प्रधानमंत्राी के हाथों सामान्य जन श्रेणी में निबंध लेखन का प्रथम पुरस्कार प्राप्त हुआ है।

सुश्री पुरोहित को प्रधानमंत्राी श्री मोदी ने एक स्मृति चिन्ह ट्राफी एवं प्रमाण पत्रा प्रदान कर सम्मानित किया। प्रधानमंत्राी ने विभिन्न श्रेणियों में 11 लोगांे को पुरस्कार वितरित किये। प्रधानमंत्राी ने सुश्री पुरोहित से पूछा कि वे क्या करती है? जब सुश्री पुरोहित ने बताया कि वे नागौर में सरकारी कार्यालय में जूनियर अकाउंटेंट है, तो उन्होंने उनकी सृजन क्षमता की तारीफ की।

सुश्री पुरोहित ने अपने लेख में मुख्य रूप से लिखा कि सफाई उनकी जिम्मेदारी है और राष्ट्रीय कर्तव्य भी। वे अपनी विभिन्न भूमिकाओं जैसे छात्रा समाज मे एक मित्रा,सरकारी सेवक, गॄह स्वामिनी के रूप में कार्य करके इसे प्राप्त करेगी ताकि यह सुनिश्चित ही सके कि उनका स्कूल, कार्य स्थल स्वछ बनें।
इस मौके पर चित्तौड़गढ़ के जिला कलेक्टर इंद्रजीत सिंह को भी विशेष रूप से आमंत्रित किया गया। समारोह में राजस्थान के स्थानीय विभाग के प्रमुख सचिव डा मंजीत सिंह, स्वच्छता मिशन की निदेशक श्रीमती आरुषि मलिक और राज्य के अन्य अधिकारीगण भी मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि केंद्रीय पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय द्वारा जारी रैंकिंग में चित्तौड़गढ़ जिले को देश में 15 वीं एवं राजस्थान में प्रथम रैंकिंग हासिल हुई है । इस उपलब्धि के चलते चित्तौड़गढ़ के जिला कलेक्टर को इस समारोह में भाग लेने का मौका मिला है। चित्तौड़गढ़ जिले में लगभग एक वर्ष के रिकार्ड समय में 2 .64 लाख शौचालय बनाकर साढे 15 सौ से अधिक गांवों को ओडीएफ किया गया है । चित्तौड़गढ़ जिला 2 अक्टूबर 2017 की प्रथम तिमाही के नतीजे में राजस्थान में शीर्ष क्रम पर एवं देश में 15वें स्थान पर पहुंच गया है । हनुमानगढ़ राज्य में दूसरे, गंगानगर तीसरे,बीकानेर चौथे एवं चूरू पांचवें स्थान पर है।
समारोह में केंद्रीय पेयजल और स्वच्छ्ता मंत्राी सुश्री उमा भारती, केंद्रीय आवासन और शहरी कार्य राज्य मंत्राी श्री हरदीप सिंह पुरी, केंद्रीय पेयजल और स्वच्छ्ता राज्य मंत्राी श्री एस एस अहलूवालिया, केंद्रीय पेयजल और स्वच्छ्ता राज्य मंत्राी श्री रमेश चंदप्पा जिगाजिनागी और वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित थे।

correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES

%d bloggers like this: