बाड़मेर जिले के पहले आईआईटियन संजीव सिन्हा संभालेंगे बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट की अहम जिम्मेदारी

-21 जनवरी 1973 में बाड़मेर में जन्म हुआ
-सिन्हा ने 1995 में कानपुर आईआईटी से एमएससी की पढ़ाई की

बाड़मेर। बाड़मेर के पहले आईआईटियन संजीव सिन्हा को जापान रेलवे द्वारा अहमदाबाद-मुंबई हाइ स्पीड रेल परियोजना के लिए सलाहकार नियुक्त किया गया है। बाड़मेर में ग्रेफ में स्टोर कीपर रहे विरेन्द्र सिन्हा के बेटे संजीव बाड़मेर के पहले आईआईटीयन भी हैं। उनके पिता सेवानिवृत्ति के बाद बाड़मेर में ही रहते हैं। भूमि पूजन अहमदाबाद में 14 सितंबर को जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे और भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में होना है। इस हाइ स्पीड रेल परियोजना को पूरा करने में करीब 1 लाख करोड़ रुपए खर्च होंगे।

कानपुर के की पढ़ाई
सिन्हा ने 1995 में कानपुर आईआईटी से फिजिक्स विषय से एमएससी की पढ़ाई की है। गोदरेज कंपनी में काम करने के बाद वह जापान की जेनटेक कंपनी के साथ काम करने के लिए चले गए।

वहीं पर जापानी लड़की से की शादी
सिन्हा का जन्म 21 जनवरी 1973 को बाड़मेर में हुआ। आईआईटीयन संजीव ने जापान में ही जापनी लड़की से शादी की थी। उनकी एक बेटी है।


correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES

%d bloggers like this: