ब्लू व्हेल गेम: मनोवैज्ञानिक बताएंगे गेम के नुकसान

न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास ने लिया प्रसंज्ञान

जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट  ब्लू व्हेल गेम में टास्क को पूरा करने के लिए किए जा रहे आत्महत्याओं के प्रयासों पर प्रसंज्ञान लिया है । न्यायाधीश गोपालकृष्ण व्यास ने बच्चों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जागरूकता कार्यक्रम चलाने के निर्देश दिए है । उन्होंने  कैम्पो के माध्यम से बच्चों एवं अभिभावकों को शारीरिक एवं मानसिक पीड़ा तथा इससे होने वाले नुकसान के बारे में जागरूक करने को कहा है।  बैठक में गृह सचिव दीपक उप्रेती,पुलिस महानिदेशक अजीत सिंह सहित कई अधिकारी मौजूद थे । अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पी.के.सिंह ने बताया कि ब्लूव्हेल गेम की रोकथाम के लिए विभाग की साइबर सेल को अलर्ट किया गया है ।इधर ब्लू व्हेल गेम पर रोक को लेकर राज्य सरकार ने विचार शुरू कर दिया है । मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देश पर राज्य के गृह,विधि एवं पुलिस महकमें के अधिकारियों की बैठक में कैसे रोक लगाई जाए,इस पर मंथन हुआ । इस दौरान मोटिवेशनल गुरूओं एवं मनोवैज्ञानिकों के माध्यम से इस गेम के नुकसान के बारे में बताया जाएगा। इस काम में शिक्षा विभाग एवं स्वयं सेवी संगठनों की मदद भी ली जाएगी । गौरतलब है कि ब्लूव्हेल गेम के पिछले दिनों में जोधपुर व जयपुर में दो केस सामने आए हैं।


correspondent

Akhil Vyas

Akhil Vyas

%d bloggers like this: