‘साक्षरता मानव श्रृंखला’ से दिया साक्षरता का संदेश

बीकानेर। जिला लोक शिक्षा समिति के तत्वावधान में अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस की श्रृंखला में गुरूवार को ‘साक्षरता मानव श्रृंखला’ का आयोजन किया गया। ‘साक्षरता मानव श्रृंखला’ जूनागढ़ से फोर्ट डिसपेंसरी , हनुमान हत्था, राजकीय मुद्रणालय, अभिलेखागार होते हुए दीनदयाल सर्किल तक आयोजित की गई। साक्षरता मानव श्रृंखला के मुख्य अतिथि राजस्थानी भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी के पूर्व सचिव डाॅ. सत्यप्रकाश आचार्य ने कहा कि साक्षरता एवं विकास एक दूसरे के पूरक हंै। साक्षरता से मानव चेतना भी जागृत होती है। डाॅ. आचार्य ने विद्यार्थियों का आह्वान किया कि वे अपने परिवार और आसपास रहने वाले निरक्षरों की पहचान करें और उन्हें साक्षर बनाने में योगदान दें।  अध्यक्षीय उद्बोधन में माध्यमिक शिक्षा उपनिदेशक महावीर पूनिया ने कहा कि साक्षरता के बाद उत्तर साक्षरता और सतत शिक्षा में सक्रियता से कार्य करने की जरूरत है, उन्होंने कहा कि साक्षर भारत कार्यक्रम के अन्तर्गत बुनियादी साक्षरता एवं समतुल्यता कार्यक्रम को ठीक से संचालित किया जाए। जिला साक्षरता एवं सतत शिक्षा अधिकारी, अशोक कुमार सोलंकी ने बताया कि जिले में 219 लोक शिक्षा केन्द्र संचालित हो रहे हैं। इन केन्द्रों में 438 प्रेरक कार्यरत हैं। उन्होंने बताया कि बीकानेर अब समतुल्य शिक्षा कार्यक्रम की ओर बढ़त बना रहा है। जिले के प्रत्येक ग्राम में साक्षरता कक्षाओं का संचालन एवं महात्मा गांधी पुस्तकालय एवं वाचनालय भी संचालित हो रहे हं,ै जहां प्रेरक पुस्तकों का लेन-देन भी करते हैं। सोलंकी ने साक्षर भारत की रूपरेखा से भी अवगत कराया। मानव श्रृंखला संयोजक तथा सहायक परियोजना अधिकारी (वरिष्ठ) राजेन्द्र जोशी ने बताया कि मानव श्रृंखला में साक्षरताकमियों ने साक्षरता नारे लिखी तख्यितयों के साथ निरक्षरता उन्मूलन का संकल्प लिया। इसमें राजबाला पाठक, सरोज शर्मा, निर्मला अग्रवाल, ललिता, नीलम शर्मा, लिक्षमा गोविल, सुरेश शर्मा, राकेश शर्मा, बाबूलाल वर्मा, महबूब अली पंवार, तुलसीराम, प्रदीप सिंह आदि मौजूद रहे। रा.बा.मा.वि. सूरसागर स्कूल के मार्गदर्शन में अग्रवाल मा.विद्यालय, गंगाबाल विद्यालय एवं दयानन्द पब्लिक स्कूल के लगभग 450 साक्षरता स्वयंसेवकों ने भाग लिया।अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस शुक्रवार को जिला लोक शिक्षा समिति के तत्वावधान में संचालित साक्षर भारत कार्यक्रम के तहत 51 वां अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का जिला स्तरीय मुख्य समारोह स्थानीय राजकीय महारानी सीनियर बालिका विद्यालय के सभाकक्ष में आयोजित किया जाएगा।     सोलंकी ने बताया कि प्रातः 10 बजे होने वाले मुख्य समारोह में साक्षरता के क्षेत्रा में उल्लेखनीय कार्य करने वाले 26 संरपचों, 25 केन्द्राधीक्षकों, 30 प्रेरकों एवं 23 स्वंयसेवी शिक्षकों के साथ 20 अन्य साक्षरता कर्मियों, केन्द्रीय कारागृह में सहयोगी संस्था महावीर इन्टरनेशनल के अध्यक्ष पूर्ण चंद राखेचा, महेन्द्र जैन, साहित्यकार डाॅ. नीरज दइया एवं डाॅ. रेणुका व्यास सहित अनेक लोगों को सम्मानित किया जाएगा। विभिन्न संस्थाओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जाएगा। समारोह के मुख्य अतिथि संसदीय सचिव डाॅ. विश्वनाथ मेघवाल होंगे। अध्यक्षता जिला कलक्टर अनिल गुप्ता करेंगे तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में महापौर नारायण चैपड़ा और जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सीआर मीणा मौजूद रहेंगे।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: