पीएफए ने वध से बचाये 73 ऊंटो को दिया संरक्षण

बकरा ईद पर पश्चिमी बंगाल में कटने जा रहे थे
सिरोही । बकरा ईद पर कटने जा रहे 73 ऊंटो को बचाते हुए सिरोही पीडीएफ ने उनको संरक्षण देने का एक उम्दा पुण्य का कार्य किया है । राजस्थान का जहाज ऊंट की बकरा ईद पर कलकत्ता में कुर्बानी होनी तय थी परन्तु ध्यान फाउण्डेशन व पीएफए के सक्रिय कार्यकर्ताओं ने समय पर जान जोखिम में रखकर इन ऊंटो को बकरा ईद पर्व के पूर्व ही वध जाने से बचाया पाये।

राजस्थान प्रदेश का राज्य पशु ऊंट को राज्य सरकार ने राज्य पशु तो घोषित कर दिया परन्तु यह मरूस्थलीय जहाज तस्करी होकर झारखण्ड़ राज्य के खोरीमहुआ अनुमण्ड़ल क्षेत्र के घोड़थम्बा में सात दिन पूर्व जब्त किये गये थे परन्तु वहां का वातावरण सही नहीं होने से एवम् ऊंटो के अनुकूल खानपान नहीं होने से 13 ऊंट पाँच दिन में ही मर गये थे। ये सभी ऊंट पश्चिमी बंगाल के वधशालाओं में सीधे बकरा ईद से पहले पहुॅचने वाले थे।

राजस्थान राज्य पशुपालक कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष गोरधन राईका ने मौके पर पहुॅचकर पीएफए से बचाये जा रहे देशभर के ऊंटो को संरक्षण देने के लिए पीएफए की प्रशंसा व्यक्त करते हुए कहा कि ऐसी समाजसेवी संस्थाओं द्वारा बेजुबान प्राणियों की रक्षा की जा रही हैं जिसके फलस्वरूप हजारो प्राणियों को जीवनदान मिल रहा हैं।


correspondent

salim khan

salim khan

%d bloggers like this: