गोगामेड़ी में दो लाख श्रद्धालु उमड़े

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedin

– कल से भीड़ और बढ़ेगी
श्रीगंगानगर। उत्तर भारत में साम्प्रदायिक एकता और सौहार्द के मेले में श्रद्धालुओं के रेले के रेले उमड़ आये हैं। हनुमानगढ़ जिले के भादरा उपखण्ड में स्थित गांव गोगामेड़ी में लोक देवता गोगा पीर के मेले का प्रथम पक्ष आज से परवान चढऩे लगा है। एक अनुमान के अनुसार लगभग दो लाख श्रद्धालु मेले में पहुंच गये हैं। कल से श्रद्धालुओं की संख्या मेें और भारी इजाफा होने की सम्भावना है। मेले का प्रथम पक्ष 14 से 16 अगस्त तक परवान पर रहेगा। प्रथम पक्ष में लोक देवता गोगा पीर के ससुराल- उत्तर प्रदेश के लोग आ रहे हैं। पीले वस्त्र धारण किये हुए अथा श्रद्धालुओं से गोगामेड़ी में पीताम्बरी दृश्य मन मोह रहा है। चारों तरफ गोगा पीर की जय-जयकार के जयकारे गूंज रहे हैं। श्रद्धालु पहले गौरख टिला में जाकर सरोवर में स्नान करने और वहां समाधी पर धोक लगाने के बाद गोगा पीर के मन्दिर में आकर पूजा-अर्चना करते हैं। मेले में व्यवस्थाएं बनाये रखने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को लगाया गया है। चारों तरफ सीसी कैमरों का जाल भी बिछा दिया गया है। मेले में अस्थाई दुकानें लगाने वालों को रात-दिन फुर्सत नहीं है। दूसरी तरफ अव्यवस्थाएं भी हावी हैं। चारों तरफ गंदगी ही गंदगी फैली हुई है। इससे श्रद्धालुओं को परेशानी हो रही है। दो दिन पहले हुई बरसात की वजह से भी कईं जगह कीचड़ फैला हुआ है।
तलाब में लाश मिली
गोगामेड़ी थानाप्रभारी भूपसिंह ने बताया कि आज सुबह गोरख टिला के पास तलाब में एक अज्ञात व्यक्ति की लाश बरामद हुई है। यह लाश तलाब में तैरकर ऊपर आ गई थी, जो कि कुछ गली-सड़ी हालत में है। अनुमान है कि यह लाश दो दिन से इस तलाब में नीचे दबी हुई थी, जो आज सुबह पानी की स्तर पर आ गई। मृतक करीब 40 वर्ष का है। उसके शव को अस्पताल में सुरक्षित रखवाकर शिनाख्त के प्रयास किये जा रहे हैं।
गोंडा का गिरोह गिरफ्तार
गोगामेड़ी के इस मेले में हर वर्ष की तरह इस बार भी बड़ी संख्या में असामाजिक तत्व, उठाईगिरे, जेब तराश और आपराधिक किस्म के लोग आ पहुंचे हैं। यह लोग श्रद्धालुओं का सामान चोरी कर ले जाते हैं या रात के अंधेरे में किसी सूनी जगह पर श्रद्धालुओं को लूट लेते हैं। थानाधिकारी ने बताया कि उत्तर प्रदेश के गोंडा से आया ऐसा ही 9 जनों का एक गिरोह गोरख टिला में तलाब के पास से गिरफ्तार किया गया है। इस गिरोह मेें शामिल बदमाश श्रद्धालु बनकर तलाब पर नहाने का नाटक करते हैं। इस दौरान अपने साथ लाई हुई चद्दरों मेें दूसरे श्रद्धालुओं का कीमती सामान चुराकर पार हो जाते हैं। उन्होंने बताया कि काबू किये गये सभी 9 जनों- बबेन, शिवप्रकाश, कैलाश पुत्र प्यारेलाल, कैलाश पुत्र वजीरचंद, मंझे, विपिन, ललित, दुखीराम व जीता को धारा 151 के तहत मजिस्टे्रट के समक्ष पेश किया गया। इनको न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। इसके अलावा समीपवर्ती हरियाणा के फतेहबाद जिले के दो व्यक्तियों अशोक पुत्र रामसेवक व जीता पुत्र पप्पूराम को भी धारा 151 में गिरफ्तार किया गया है, जो कि मेला परिसर मेें संदिग्ध रूप से घूम रहे थे।

correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi