श्रीगंगानगर स्माल क्राइम न्यूज

Facebooktwittergoogle_plusredditpinterestlinkedin

जीप की टक्कर से वाटरवक्र्स कर्मी घायल
श्रीगंगानगर-श्रीकरणपुर मार्ग पर चक 13 जैड के पास एक जीप की टक्कर लगने से साइकिल पर सवार एक वाटरवक्र्स का कर्मचारी बुरी तरह से घायल हो गया। मटीलीराठान थाना पुलिस ने आज टक्कर मारने वाली जीप आरजे 06-यूए 6422 के चालक पर लापरवाही बरतने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने बताया कि चक 15 जैड निवासी पतराम पुत्र सेाहनलाल, चक 13 जैड के वाटरवक्र्स में कार्यरत है। वह गुुरुवार सुबह लगभग 7 बजे 15 जैड से अपनी ड्यूटी करने के लिए 13 जैड साइकिल पर जा रहा था। 15 जैड के पास ही जीप ने उसे पीछे से टक्कर मार दी। पतराम बुरी तरह से घायल हो गया, जो श्रीगंगानगर के एक अस्पताल में उपचाराधीन है। उसके चाचा जगमाल मेघवाल ने आज मुकदमा दर्ज करवाया।
संदिग्ध घी के मामले में दो मुकदमे दर्ज
नई मण्डी घड़साना में दो ठिकानों पर मिले संदिग्ध नकली देसी घी की कार्रवाई आज सुबह मुकम्मल हो गई। खाद्य सुरक्षा
अधिकारी हरीराम वर्मा और थानाप्रभारी विक्रम चौहान की देखरेख में दोनों ठिकानों पर जब्त हुए संदिग्ध घी के सैम्पल लेने और उन्हें जब्त करने की कार्रवाई सारी रात चली। इसके बाद थानाप्रभारी की रिपोर्ट पर देा मुकदमे आज दर्ज किये गये। विक्रम चौहान ने बताया कि मेहताब कॉलोनी में अशोक पुत्र महावीर अग्रवाल के घर से अलग-अलग ब्रांड का कुल 270 लीटर घी बरामद
हुआ है। दूसरी तरफ अनाज मण्डी में जितेन्द्र अग्रवाल की फर्म से अलग-अलग ब्रांड का 930 लीटर संदिग्ध घी बरामद हुआ। उन्होंने बताया कि वे दोनों अभियुक्त फरार हैं। खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा लिये गये सैम्पलों को जांच के लिए एफएसएल को भेजा जा रहा है। जितेन्द्र और अशोक साला बहनोई हैं, जो विगत मंगलवार की रात से ही गायब हैं, जब बीकानेर में नाल क्षेत्र
में नकली देसी घी बनाने की एक हाईटैक फैक्टरी का भंडाफोड़ हुआ था। बीकानेर पुलिस ने ही घड़साना पुलिस को सूचना दी थी कि इस फैक्टरी से घड़साना के व्यापारियों को भी यह घी सप्लाई किया गया है। इसके बाद यहां छापेमारी की कार्रवाई की गई थी।
परचून की दुकान से अवैध शराब जब्त
समेजा कोठी थाना क्षेत्र में विगत रात्रि पुलिस ने भारत-पाक सीमा पर स्थित गांव खमीसा-चक 23 एसजेएम में एक परचून की दुकान के आगे से अवैध शराब की 15 पेटियां बरामद की हैं, जिनमेें देसी शराब के 720 पव्वे भरे हुए थे। पुलिस को देखकर परचून की दुकान करने वाला हरदयाल सिंह उर्फ दद्दू पुत्र अमर सिंह अरोड़ा वहां से फरार हो गया। पुलिस ने बताया कि कल रात लगभग साढ़े 10 बजे सूचना मिली थी कि इस गांव में एक जीप अवैध शराब लेकर आ रही है। पुलिस पार्टी इस जीप के पीछे लग गई। इस जीप से जैसे ही देसी शराब की पेटियां हरदयाल की दुकान के आगे उतारी गईं, तब वहां मौजूद हरदयाल पुलिस पार्टी को देखकर भाग गया। उस पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। इस बीच श्रीकरणपुर पुलिस ने आज सुबह बस अड्डे के पास सतनाम सिंह निवासी चक 16 एफएफ और सादुलशहर पुलिस ने एसडीएस पुलिया के पास सुबह मि_ू सिंह जट सिख को क्रमश: 55 व 48 पव्वे अवैध देशी शराब सहित गिरफ्तार किया।

हत्या कर नहर में फेंकी गई लाश बरामद
हनुमानगढ़ जिले में संगरिया पुलिस ने शुक्रवार सुबह करणी ब्रांच नहर की केएसडी वितरिका से लीलूराम बावरी की लाश को बरामद कर लिया। लीलूराम को उसके भाई-भतीजों ने बुधवार की रात को बुरी तरह घायल कर करणीजी नहर में फेंक दिया था। आज सुबह इस नहर की केएसडी वितरिका में मालारामपुरा गांव के पास लीलूराम की लाश को पानी में तैरते होने का पता चलने पर थानाप्रभारी मोहर सिंह पूनिया तुरंत ही दलबल सहित पहुंच गये। श्री पूनिया ने बताया कि लाश को जब बाहर निकाला गया, तो उसके शरीर पर कुल 6 गम्भीर चोटों के निशान पाये गये। इनमें तीन घातक चोटें उसके सिर में मारी हुई थीं। मौके की कार्रवाई के बाद लाश को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी अस्पताल में लाया गया, जिसे बाद में परिवारजनों के सुपुर्द कर दिया गया। इस बीच लीलूराम के पुत्र सुन्दरपाल द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने गुरुवार देर शाम को महावीर, कैलाश व ताराचंद एवं इनके
पिता भादरराम, तारांचद के पुत्र शिवदत्त और भादरराम के दामाद सहित कईं जनों पर कत्ल के आरोप में मुकदमा दर्ज कर लिया। थानाधिकारी ने बताया कि मृतक लीलूराम के पिता ने अपनी कृषि भूमि को अपने सभी पुत्रों में बराबर बांट रखी है। एक हिस्सा उसने अपने पास रखा हुआ है। इस हिस्से को वह कभी किसी पुत्र को, तो कभी दूसरे पुत्र को काश्त करने के लिए दे देता है। इस
बार उसने यह जमीन लीलूराम को काश्त करने के लिए दी थी। जमीन को लेकर कोई विवाद सामने नहीं आया है, लेकिन कुछ समय पहले लीलूराम का अपने भाइयों के साथ घर के एक कमरे को लेकर विवाद हो गया था। इस विवाद को भी रिश्तेदारों
ने सुलटा दिया था, लेकिन कहीं ना कहीं इस विवाद को लेकर उसके भाई महावीर, ताराचंद व कैलाश आदि उससे रंजिश रखे हुए थे। लीलूराम बुधवार रात लगभग 9 बजे खेत में पानी लगाकर वापिस आ रहा था। इसी दौरान रास्ते में उसे घेर लिया गया और बुरी तरह घायल कर नहर में फेंक दिया। पुलिस को कल गुरुवार को इस मामले की जानकारी मिली। घटनास्थल पर जांच-पड़ताल के दौरान पुलिस को लीलूराम का मोटरसाइकिल व मोबाइल फोन नहर किनारे झाडिय़ों में पड़ा मिला। यही झाडिय़ों के पास ही खून भी बिखरा हुआ था। किसी को घसीटकर नहर में फेंकने के निशान भी मिले। इसके बाद से पुलिस और परिवारजन लीलूराम की नहर
में तलाश कर रहे थे। आज सुबह उसकी लाश बरामद हो गई। बकौल पुलिस इस घटना के बाद से उक्त मुल्जिम फरार हैं, जिनकी तलाश की जा रही है।
अमानत के तौर पर दिये चैकों का दुरुपयोग
स्थानीय कुंजविहार कॉलोनी के एक शख्स ने दो-तीन जनों पर उसके द्वारा अमानत के तौर पर दिये हुए चैकों का दुरुपयोग
करने का आरोप लगाते हुए कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस के अनुसार दर्ज करवाये मुकदमे में नवनीत पुत्र ओमप्रकाश धींगड़ा ने बताया कि उसने सितम्बर 2012 में पी ब्लॉक में एक दुकान किराये पर ली थी। तब उसने दो खाली चैक अमानत के तौर पर सुरेन्द्र पुत्र इंद्रपाल विग निवासी पी ब्लॉक को दिये थे। उसने सितम्बर 2014 में यह दुकान खाली कर दी। सारा
किराया चुकता किया हुआ था। किसी तरह का कोई लेनदेन बाकि नहीं था। नवनीत धींगड़ा का आरोप है कि सुरेन्द्र विग ने अमानत के तौर पर दिये हुए उसे चैक वापिस नहीं किये। यह चैक उसने मनीष पुत्र अशोक विग निवासी पंचकूला (हरियाणा) को दे दिये, जिसने इनमें 18 लाख की राशि भरकर उसके खाते में लगाकर इसका दुरुपयोग किया। मामला धारा 420 व 406 में दर्ज किया गया है।
विराट कार्गाे के संचालकों पर दर्ज हुआ मुकदमा
श्रीगंगानगर स्थित विराट कार्गांे ट्रांसपोर्ट कम्पनी के संचालक एक बार फिर से सुर्खियों में आ गये हैं। इस ट्रांसपोर्ट कम्पनी के संचालक पार्टनरों बलदेव सैनी और विजय बिलंदी पर लगभग 100 गैस चूल्हे गंतव्य पर डिलीवर नहीं करने की बजाय किसी ओर को बेच देने का आरोप लगा है। करीब 4 महीने पहले इन दोनों सहित चार जनों को हनुमानगढ़ टाऊन पुलिस ने सेल टैक्स विभाग द्वारा माल सहित सीज किये हुए ट्रकों को चोरी कर ले जाने के आरोप में गिरफ्तार किया था। यह नया मामला भी टाऊन थाना में ही दर्ज हुआ है। पुलिस के अनुसार टाऊन में नई आबादी की गली नं. 3 निवासी बलदेव पुत्र कश्मीरीलाल अरोड़ा ने दर्ज करवाये मुकदमे
में बताया है कि उसने विगत 17 मई को 96 गैस चूल्हे श्रीगंगानगर में गोदारा इंडेन गैस एजेंसी को पहुंचाने के लिए बुक करवाये थे। इस बुकिंग की उसे बिल्टी भी दी गई। बलदेव अरोड़ा का आरोप है कि विराट कार्गाे के संचालक बलदेव पुत्र छोटूराम सैनी और विजय पुत्र दीवानचंद बिलंदी ने यह गैस चूल्हे गोदारा इंडेन एजेंसी पर नहीं पहुंचाये। यह चूल्हे श्रीगंगानगर में गर्ग लाइट हाऊस को बेच दिये। मामला धारा 420 व 406 में दर्ज कर पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है।
बाल श्रम अधिनियम में चाय वाला गिरफ्तार
भगत सिंह चौक में ट्रेफिक थाने के सामने, जिला पुस्तकालय के गेट के पास चाय-दूध का खोखा लगाने वाले शख्स को आज बाल
श्रम अधिनियम के तहत गिरफ्तार कर लिया गया। मानव तस्करी विरोधी इकाई के प्रभारी निरीक्षक बलवंतराम ने बताया कि इस चाय वाले के यहां बिहार मूल के दो बालक काम करते हुए मिले, जिनको बहुत कम ही पगार दी जाती थी। उन्होंने बताया कि यहां से मुक्त करवाये गये यह बालक 12 और 13 वर्ष के हैं, जो अपने परिवारों के साथ फिलहाल पुरानी आबादी में रहते हैं। उन्होंने बताया
कि चाय-दूध का खोखा लगाने वाले राजकुमार पुत्र नत्थूराम मेघवाल पर कोतवाली में भादस की धारा 374 और बाल श्रम प्रतिच्छेद अधिनियम की धारा 3, 7, 9 व 11 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। राजकुमार को गिरफ्तार करने के बाद उसे जमानत में रिहा कर दिया गया।
दोनों मुल्जिमों को जेल भेजा
मुुकलावा थाना क्षेत्र में चोरी की तीन बड़ी वारदातेें करने वाले पंजाब के एक गैंग के गिरफ्तार किये गये दो सदस्यों शम्भू उर्फ जावर पुत्र बसंत सिंह फकीर और चांद उर्फ चांदनी पुत्र गूंगा उर्फ श्रवण को आज न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया। थानाप्रभारी
रामप्रताप वर्मा ने बताया कि कल जब इन्हें काबू किया गया था, तब इनसे एक-एक देसी कट्टा बरामद हुआ था। आम्र्स एक्ट में अलग-अलग मुकदमे दर्ज कर इनको गिरफ्तार कर लिया। इन्हीं मामलों में आज रायसिंहनगर की एक कोर्ट में पेश करने पर दोनों को न्यायिक हिरासत में भेजने के आदेश दिये गये। उन्होंने बताया कि चोरी की वारदातों में माल की बरामदगी के लिए इन दोनों
को बाद में प्रोडक्शन वारंट के जरिये हिरासत में लिया जायेगा। इस बीच पुलिस इनके एक अन्य साथी से पूछताछ करने के साथ-साथ चुराये हुए माल को बरामद करने की कार्रवाई में लगी हुई है।

गंगकैनाल में पानी की धड़ल्ले से चोरी
पंजाब से गंगकैनाल (बीकानेर कैनाल) में पिछले दो-तीन दिनों से तीन हजार क्यूसेक से भी अधिक पानी आ रहा है, जिससे इस परियोजना की सभी नहरों को पूरा पानी उपलब्ध हो रहा है। बावजूद इसके किसान पानी चोरी करने का लालच नहीं छोड़ रहे। जल संसाधन विभाग के अधिकारियों ने संयुक्त रूप से गश्त करते हुए गंगकैनाल की मेन फीडर पर तीन जगह पानी की चोरी पकड़ी है। इन जगहों पर किसानों ने अवैध रूप से पाइपें लगा रखी थीं। पानी चोरी करने वाले किसानों ने नहर के पटड़े और डावल को भी
क्षतिग्रस्त कर दिया। इन किसानों के खिलाफ हिन्दुमलकोट थाना में जल संसाधन विभाग के एक कनिष्ठ अभियंता कुमार विश्वास शर्मा की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि विभाग के कनिष्ठ अभियंता कुमार विश्वास के साथ सहायक अभियंता रामरख और हिमांशु की टीम ने बुधवार-गुरुवार की रात को गंगकैनाल पर गश्त लगाई। रिपोर्ट में कनिष्ठ
अभियंता ने बताया कि बुर्जी संख्या 390-391 के बीच बाईं तरफ पटड़े व डावल को क्षतिग्रस्त कर 50-50 फीट लम्बी देा पाइपें पास के खेत के खाले तक लगा रखी थीं। खाले में पानी चल रहा था। अधिकारियों की टीम जब यहां पहुंची, तो पानी चोरी करने वाले किसान भाग खड़े हुए। आरोप लगाया गया है कि इस जगह कुलदीप पुत्र चरण ङ्क्षसह जट सिख द्वारा अपने खेत में पानी लगाया जा रहा था। इसी तरह आगे आरडी 391-392 के बीच भी इसी तरह पाइपें लगी हुई थीं। यहां पानी चोरी करने का आरोप छम्मासिंह पुत्र प्रेम सिंह पर लगाया गया है, जिसकी ढाणी नहर के नजदीक ही है। उसके बाद आरडी 392-393 के बीच भी इन अधिकारियों ने पाइपों से पानी चोरी करते हुए पकड़ा। इस जगह वीर सिंह पुत्र सुखवंत सिंह जट सिख पर पानी चोरी करने का इल्जाम लगाया गया है।
कर्मचारियों को गोदाम में चोरी करते पकड़ा
श्रीगंगानगर जिले के दूरवर्ती रावला कस्बे मेें एक दुकानदार ने अपने दो कर्मचारियों पर गोदाम से सामान चोरी करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया है। पुलिस ने दोनों कर्मचारियों को पूछताछ करने के लिए राउंडअप कर लिया है। पुलिस के अनुसार  कस्बे में फर्म कृष्णा ट्रेडर्स के संचालक दर्शन कुमार सिंधी की रिपोर्ट पर यह केस दर्ज किया गया है। दर्शन ने बताया कि उसकी फर्म का गोदाम रिको इंडस्ट्रीयल एरिया में है। उसने अपनी दुकान पर दो युवकों को रखा हुआ है। कुछ दिनों से उसके गोदाम में माल कम होता जा रहा था। जब उसने माल को चैक किया तो पाया कि कुछ सामान गायब है, जिनमें प्लास्टिक की पाइपें भी हैं।
उसने अपने दोनों कर्मचारियों पर ही चोरी करने का शक जाहिर किया है। पुलिस ने बताया कि अभी इनसे पूछताछ चल रही है। इस बीच अन्य सूत्रों ने बताया कि इस गोदाम से प्लास्टिक की पाइपें व कुछ अन्य सामान पिछले काफी समय से चोरी हो रहा था। विगत 1 जुलाई से जीएसटी लागू हुआ, तो दुकानदार ने अपने सारे स्टॉक का मिलान किया। तब उसे शक हुआ कि गोदाम से माल गायब हो रहा है। उसने गुप्त रूप से अपने गोदाम पर नजर रखी। परसों बुधवार की रात को उसने अपने कर्मचारियों को चार-पांच प्लास्टिक की पाइपें चोरी करके ले जाते हुए पकड़ लिया, जिन्हें पुलिस के हवाले कर दिया। जानकारी के अनुसार इन कर्मचारियों द्वारा गायब किये गये सामान में शामिल करीब 280 पाइपें चक 27 आरजेडी में एक ढाणी के पास से बरामद की गई हैं। पाइपों को चोरी कर यह
कर्मचारी वहां छिपा रहे थे।
भाई-भाभी व भतीजे पर हमले का आरोप
हनुमानगढ़ टाऊन थाना क्षेत्र के गांव चोहिलियांवाली में जमीन-जायदाद के बंटवारे के विवाद में एक परिवार पर हमला किये जाने की घटना सामने आई है। पुलिस के अनुसार अस्पताल में उपचाराधीन रमेश पुत्र राजकुमार बिश्रोई द्वारा दिये गये बयान के आधार पर उसके पड़ोस में रहने वाले उसके भाई मुखराम, भाभी अल्का और भतीजे साहिल पर केस दर्ज किया गया है। रमेश ने बताया कि कल शाम अल्का और साहिल उसके घर आकर झगड़ा करने लगे। फिर साहिल ने फोन कर अपने पिता मुखराम को भी बुला लिया, जो लोहे की रोड लेकर आया। इन तीनों ने मिलकर उसके साथ मारपीट की। बीच-बचाव करने के लिए उसकी बहन गीता बीच में आई तो उसे भी घायल कर दिया।

बार-बार पुलिस को चुनौती दे रहा है हत्या का आरोपी
– बहुचर्चित विनोद बेनीवाल हत्याकांड में पुलिस को वांछित हरियाणा के भिवानी जिले का शातिर युवक दीपक मलिक उर्फ
दीपक चौधरी बार-बार अपने फेसबुक अकाउंट पर प्रकट होकर पुलिस को चुनौती दे रहा है। आज फिर वह फेसबुक अकाउंट पर आया, जिसमें उसने सदर थाना के एसआई चंद्रजीत सिंह के बारे में अनगर्ल प्रलाप किया। अपने कमेंट में दीपक ने लिखा है कि पुलिस को 10 लाख रुपये नहीं मिले, इसलिए वह निर्दाेष को हत्या में फंसाकर उसे प्रताडि़त कर रही है। उसने इसका अंजाम भुगतने की चेतावनी दी है। साथ ही किसी भादू नाम के कांस्टेबल को भी चेताया है कि वह उसे भी नहीं छोड़ेगा। इसी कमेंट में दीपक ने कहा है कि परसों पुलिस उस पर गोलियां बरसाकर देख चुकी है। वह उसके हाथ नहीं आया। इधर, पुलिस ने दीपक के साथ कहीं आमना-सामना होने से इंकार किया है। हालांकि पुलिस की एक टीम लगातार दीपक की लोकेशन ट्रेस करते हुए उसके पीछे लगी हुई है।
तीन जनों ने जहर निगला
आज अलग-अलग घटनाओं में तीन जनों ने कथित रूप से जहरीली दवा का सेवन कर लिया। पुलिस के अनुसार आज देर शाम पुरानी मण्डी घड़साना के एक युवक बलवंत सिंह पुत्र साधू सिंह को उसके परिवार वालों ने बेहोशी की हालत में यहां के एक अस्पताल में भर्ती करवाया। इससे पूर्व दुलापुर केरी गांव के 20 वर्षीय सुखविन्द्र सिंह पुत्र भगवंत सिंह और चक 3 एमएल के गुरदीप सिंह पुत्र श्यामसुन्दर को गगनपथ पर स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया। पुलिस ने बताया कि इन दोनों ने किसी जहरीली दवा का सेवन किया हुआ है। इसके अलावा शाम को प्राचीन शिवालय के पास से 80 वर्ष के एक वृद्ध सीपाराम पुत्र राहुजीराम को 108 की एम्बुलेंस ने गम्भीर बीमार व बेहोश होने के कारण अस्पताल में भर्ती करवाया। हादसे में दो घायल : हनुमानगढ़ मार्ग पर रिको उद्योग विहार के पास आज शाम मोटरसाइकिल व बस में टक्कर हो गई। बकौल पुलिस इस हादसे में मोटरसाइकिल पर सवार टोनी और सुरेश नाम के दो युवक घायल हो गये।

correspondent

DESERTTIMES

DESERTTIMES

Facebook Auto Publish Powered By : XYZScripts.com