सरपंच ने बीडीओ को रिश्वत लेते पकड़वाया

– भादरा में एसीबी की सुबह-सवेरे कार्रवाई
हनुमानगढ़। हनुमानगढ़ जिले में एक सरपंच ने पंचायत समिति के विकास अधिकारी को 20 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए आज रंगे हाथ पकड़वा दिया। इसके लिए इस सरपंच को खूब बधाइयां मिलीं। पकड़े गये विकास अधिकारी की रिश्वतखोरी से कईं सरपंच और ग्रामसेवक ही नहीं, बल्कि पंचायत समिति कार्यालय के कर्मचारी भी परेशान थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की चूरू में स्थित चौकी के प्रभारी रमेश माचरा की अगुवाई में आई एक टीम ने सुबह भादरा में विकास अधिकारी मोहन सिंह
गोदारा को उसके सरकारी क्वार्टर में ही ग्राम पंचायत मुंसरी के सरपंच सुभाष से 20 हजार की रिश्वत लेते हुए काबू किया। सरपंच सुभाष ने कुछ दिन पहले विकास अधिकारी द्वारा रिश्वत मांगे जाने की शिकायत की थी। एसीबी के अनुसार विकास अधिकारी मुंसरी ग्राम पंचायत में हुए विभिन्न निर्माण एवं विकास कार्यांे का सीसी सर्टिफिकेट जारी करने की ऐवज में रिश्वत की मांग कर रहा था। शिकायत मिलने पर कल गुरुवार को इसका सत्यापन करवाया गया। सत्यापन की कार्रवाई के दौरान सरपंच व बीडीअेा की बातचीत को गुप्त रूप से रिकॉर्ड किया गया, जिसमें बीडीओ ने साढ़े 27 हजार रुपये की मांग की। तय हुआ कि इसमें से 20 हजार रुपये पहले और बाकि साढ़े 7 हजार रुपये बाद में लिये जायेंगे। योजना के अनुसार एसीबी ने आज सुबह सरपंच को 20 हजार रुपये अदृश्य कैमिकल लगाकर दिये, जो उसने क्वार्टर में जाकर बीडीओ को दे दिये। इशारा मिलते ही टीम हरकत में आ गई और बीडीओ को दबोच लिया। हाथ धुलवाने पर गुलाबी रंग उतर आया। बीडीओ के रिश्वत लेते पकड़े जाने का पता चलने पर
उसके सरकारी निवास पर काफी भीड़ जुट गई। अनेक गांवों के सरपंच, ग्रामसेवक और अन्य लोग आ गये। यह सभी काफी खुश दिखाई दिये। उन्होंने सरपंच सुभाष को इसके लिए बधाई दी। सरपंच ने बताया कि पूर्व में वह कईं बार बीडीओ को रुपये दे चुका था, लेकिन उसकी मांग बढ़ती ही जा रही थी। तंग आकर उसने एसीबी को शिकायत की। मोहन सिंह गोदारा चूरू का निवासी है। एसीबी की एक टीम उसके घर की भी सर्चिंग कर रही है। उसे कल एसीबी की विशेष कोर्ट में पेश किया जायेगा।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: