जेडीए अध्यक्ष ने किया विकास कार्यों का निरीक्षण

जोधपुर। जेडीए अध्यक्ष प्रो. (डॉ.) महेन्द्र राठौड़ ने शुक्रवार को वीर दुर्गादास राठौड़ मल्टीलेवल लाईओवर का निरीक्षण कुछ विशेषज्ञों के साथ किया। विशेषज्ञों ने प्राधिकरण के इस महत्वपूर्ण परियोजना की तारीफ में पुल बांधते हुए कहा कि वास्तव में यह मल्टीलेवल लाईओवर आमजन को बेहद राहत देने वाला कदम साबित होगा। प्रो. राठौड़ ने अतिथि विशेेषज्ञों को बताया कि वर्षाकाल में अण्डरब्रिज में बरसाती पानी एवं सीवरेज का पानी इकठ्ठा होने से यातायात बाधित हो जाता था, आरओबी निर्माण से यातायात का सुचारू रूप से परिवहन हो सकेगा एवं यातायात के दबाव की समस्या के समाधान के साथ ही वाहनों के बहुमूल्य ईंधन एवं मानव समय की बचत होगी। प्रो. (डॉ.) महेन्द्र राठौड़ ने बताया कि यह आरओबी प्रदेश का पहला मल्टीलेवल ओवरब्रिज है जो आरओबी के साथ दो चौराहों रिक्तियां भैरूजी एवं रोटरी चौराहे पर लाईओवर के रूप में कार्य करेगा। जिससे उक्त दो चौराहों पर यातायात के दबाव की समस्या का स्थायी समाधान हो जायेगा। प्रो. राठौड़ ने कहा कि वीर दुर्गादास मल्टीलेवल लाईओवर की गुणवत्ता के साथ किसी प्रकार का समझौता नहीं किया गया हैं। उक्त आरओबी 4 लेन का है जिसकी कुल लम्बाई 1960 मीटर है। उक्त आरओबी का कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। प्रो. (डॉ.) महेन्द्र राठौड़ ने बताया कि अभी वर्तमान में आरओबी पर मास्टिक एवं पेंटिंग का कार्य पूर्ण होते ही वीर दुर्गादास मल्टीलेवल लाईओवर जनता को समर्पित कर दिया जाएगा।  प्रो. राठौड़ ने वर्तमान में चौपहिया वाहनों की पार्किंग व पार्क विकसित करने हेतु मिट्टी भराई, दुपहिया वाहनों की पार्किंग हेतु मिट्टी भराई, चुनाई व लेवलिंग के कार्य की प्रगति का निरीक्षण किया। अभियन्ताओं द्वारा बताया गया कि मिट्टी भराई से पूर्व जंगल कटिंग व सर्वे का कार्य पूर्ण हो चुका है। साथ ही लगभग 30 फीट खड्डे व रेत के पहाड़ों को समतल करते हुए लगभग 5 मीटर भराई का पूर्ण किया जा चुका है। क्षेत्रवासियों ने बताया कि अभी से ही विकास कार्यों को देखने के लिए सुबह-शाम बड़ी मात्रा में आमजन मौके पर आते है।

correspondent

Gulam Mohammad

Gulam Mohammad