असाध्य बीमारियों का उपचार गंभीरता से हो – गुप्ता

जयपुर। प्रदेश में कैंसर, डायबीटिज, कार्डियोवेसक्लूयर एवं हृदयाघात जैसी असंक्रामक बीमारियों की रोकथाम तथा उपचार के प्रति विशेष गंभीरता बरती जायेगी। इन बीमारियों की पहचान के लिए आयोजित किये जा रहे शिविरों में पॉजिटिव चिह्नित मरीजों को समुचित उपचार उपलब्ध करवाया जायेगा।चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की प्रमुख शासन सचिव श्रीमती वीनू गुप्ता की अध्यक्षता में सोमवार को प्रातः सीफू में आयोजित एनपीसीडीसीएस कार्यक्रम की समीक्षा बैठक में यह जानकारी दी गयी। बैठक में जिलास्तर पर संचालित एनसीडी क्लिनिक आने वाले प्रत्येक मरीज की डायबीटिज एवं ब्लड प्रेशर जैसी आवश्यक जांचें करने एवं ग्लोकोस्टिक, ग्लूकोमीटर व लेनसेट इत्यादि सामग्री की यथासमय डिमाण्ड भिजवाने के निर्देश दिये। उन्होंने गैर-संचारी रोगों के लिए आयोजित शिविरों में चिह्नित किये गये व रेफर रोगियों का समुचित फालोअप करने एवं पॉजिटिव रोगियों को उपयुक्त परामर्श व उपचार से लाभान्वित करने की हिदायत दी।


Desert Time

correspondent

Hemant Bhati

Hemant Bhati

%d bloggers like this: