एप से अपडेट होगी पुलिस, आम जन शेयर कर सकेंगे वारदात का वीडियो

श्रीगंगानगर। राज्य की पुलिस अब पूरी तरह हाईटेक होने की ओर अग्रसर है। साइबर क्राइम जैसे अपराधों से निपटने के लिए सूूचना प्रौद्योगिकी का पहले से इस्तेमाल करती आई पुलिस ने अब एक कदम और बढ़ाते हुए क्राइम कंट्रोल में आमजन की सीधी भागीदारी की सरजमीन तैयार कर ली है।  इसके लिए राजस्थान पुलिस ने एक ऐप लॉन्च किया है। इस ऐप के माध्यम से आमजन कहीं पर भी हो रही आपराधिक गतिविधियों की वीडियो बनाकर उस पर अपलोड कर सकेगा। इतना ही नहीं इस एप पर ईमेल या दूसरी जानकारी देने की सुविधा भी रखी गई है। आमजन की सहूलियत को देखते हुए पुलिस मुख्यालय ने विशेष सॉफ्टवेयर तैयार कराया है। पुलिस मुख्यालय के स्टेट क्राइम के पुलिस अधीक्षक ने प्रदेश के सभी थानों के लिए विशेष आदेश जारी करते हुए राजकॉप सीटिजन ऐप को अपलोड करने के साथ ही वेबसाइट के बारे में आमजन को जानकारी देने के निर्देश दिए हैं। इस ऐप से किस थाने में कितने वीडियो या आपराधिक ईमेल की जानकारी आई है। इस पर कितनी कार्रवाई हुई, इसका अवलोकन मुख्यालय के साथ ही रेंज के महानिरीक्षक, पुलिस आयुक्त, जिला पुलिस अधीक्षक व थानाधिकारी क्लिक कर देख सकेंगे। बहरहाल किस व्यक्ति ने किस थाने की शिकायत की है, इसका पता किसी अधिकारी को नहीं लगेगा। राजकॉप सीटिजन एप में प्रदेश का कोई भी नागरिक किसी भी आपराधिक घटना की फोटो-वीडियो बनाकर अपलोड कर सकेगा। जिला कंट्रोल रूम व थानों से यह ऐप सीधा जुड़ा रहेगा।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: