तंबाकू में मौजूद 4000 जहरीले तत्वों से होती है गंभीर बीमारियां

तंबाकू नियंत्रण के संदर्भ आयोजित कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने बताए दुष्प्रभाव
सादुलशहर। तंबाकू नियंत्रण अभियान के अंतर्गत आज सुबह राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सादुलषहर की टीम की ओर से कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री के निर्देषानुसार सादुलषहर सीएचसी की टीम ने भी आयोजित करके तंबाकू के दुष्प्रभावों से बचने के लिए विद्यार्थियों को जानकारी दी। इसमें सीएचसी एनसीडी के फिजियोथैरेपिस्ट डॉ. रवि जोषी ने संबोधित करते हुए तंबाकू से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि तंबाकू में मौजूद 4000 जहरीले तत्वों से कई गंभीर बिमारियां होती है। डॉ. जोषी ने बताया कि इन बिमारियों में मुख्य बालों का झड़ना, मोतियाबिंद, दांत में सड़न, फेफड़ों का कैंसर, दिल की बीमारी, पेट का अल्सर, बदरंग ऊंगलियां सहित विभिन्न प्रकार के लक्षण सामने आते हैं। इसके साथ ही कैंसर जैसी गंभीर बीमारियां हो जाती है। उन्होंने बताया कि तंबाकू को छोड़ना भी ज्यादा मुष्किल कार्य नहीं है। इसके लिए निकोटिन की चिंगम सहित कई वस्तुओं का यूज करके छोड़ा जा सकता है। इस मौके पर सीएचसी प्रभारी डॉ. सीएम ढालिया, स्कूल के वाइज प्रींसीपल हेतराम, विनोद षर्मा, भगतराम, रवि यादव, हरिष कुमार, सादुलषहर सीएचसी के एनसीडी सेल के कॉर्डिनेटर इंद्राज बिष्नोई, सहित स्कूल के छात्र-छात्राएं मौजूद थे।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: