स्वच्छता को अपने जीवन में अपनाएं – जिला प्रमुख

राजसमन्द। जिले का चौकड़ी गांव शौचमुक्त होने पर कार्यक्रम का आयोजन कर प्रमाण पत्र दिए गए। जिला प्रमुख प्रवेश कुमार सालवी ने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) को लेकर आम ग्रामीणजनों एवं युवाओं से कहा है कि स्वच्छता को अपने जीवन में अपनाएं तथा खुले में शौच की प्रवृति को त्यागते हुए हर घर में शौचालयों का निर्माण कर उनका उपयोग करते हुए स्वच्छ भारत के निर्माण में अपना योगदान दे। कलक्टर अर्चना सिंह के निर्देशन में तथा जन प्रतिनिधियों के साथ आम ग्राम पंचायत के आम ग्रामीणों के सार्थक प्रयासों से पंचायत समिति की यह पहली शौचमुक्त ग्राम पंचायत (ओडीएफ) बन गई है। सरकार की ओर से 150 घरों पर स्वच्छता को बनाए रखने के लिए ग्राम पंचायत में दो सफाईकर्मियों की सुविधा भी मिलती है, वहीं ओडीएफ ग्राम पंचायतों को उनके विकास कार्यों के लिए प्राथमिकता से अतिरिक्त बजट भी प्रदान किया जाता है। इसलिए सभी ग्राम सरपंच अपनी-अपनी ग्राम पंचायतों को ओडीएफ बनाए। इस अवसर पर पूर्व जिला प्रमुख नन्दलाल सिंघवी, रेलमगरा प्रधान प्रभुलाल भील आदि ने भी स्वच्छता कार्यक्रम पर अपने विचार व्यक्त किए। इससे पूर्व खण्ड शिक्षा अधिकारी प्राथमिक एम.एस.झाला ने चौकड़ी ग्राम पंचायत के ओडीएफ होने के लिए प्रेरणा एवं जनप्रतिनिधियों तथा ग्रामीण युवाओं की रही भागीदारी के संदर्भ में संक्षिप्त जानकारी दी। इस अवसर पर उपखण्ड अधिकारी शक्तिसिंह भाटी, तहसीलदार कालूराम रेगर, सरपंच रतनसिंह दुलावत सहित अधिकारी, जनप्रतिनिधि, प्रबुद्ध नागरिक एवं आम ग्रामीणजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संयोजन शिक्षाविद् दिनेश श्रीमाली एवं गणेश सालवी ने संयुक्त रूप से किया। अन्त में सभी आगन्तुकों का आभार स्वच्छ कार्यक्रम के समन्वयक नानालाल सालवी ने व्यक्त किया।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: