विभागीय कार्यवाही में 211 पुलिसकर्मियों-अधिकारियों को मेजर पनिशमेंट

पुलिस विभाग ने अपनों के ही खिलाफ साल भर में निपटाए 4 हजार से अधिक मामले
जयपुर। अपने सहकर्मियों के प्रति नरम रुख संबंधी आम धारणा के विपरीत पुलिस विभाग ने वर्ष 2016 में अपने ही 211 अधिकारियों-कर्मचारियों को मेजर पनिशमेंट दिया है। विभाग की सर्तकता शाखा ने गंभीर अनियमितताओं के दोषी पाये गये पुलिसकर्मियों के विरुद्ध नियम 16 सीसीए के तहत 370 प्रकरण तथा सामान्य दोष सिद्ध पुलिस कर्मियों के विरुद्ध नियम 17 सीसीए के तहत 3 हजार 789 मामले निस्तारित किए। पुलिस महानिदेशक मनोज भट्ट ने बताया कि ऎसा पहली बार हुआ है, जब पुलिस विभाग ने विभागीय छवि को सुधारने के लिये विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों के विरुद्ध इतना बड़ा फैसला लेते हुए इस कार्यवाही को अंजाम दिया है। मेजर पनिशमेन्ट पाने वालों में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी से लेकर पुलिस निरीक्षक तक के 20 पुलिसकर्मियों के विरुद्ध बर्खास्तगी की कार्यवाही की गई है। इसी प्रकार 14 पुलिसकर्मियों को अनिवार्य सेवानिवृति दी गई, 18 को सेवा से पृथक, 3 को पदावनत किया गया जबिक 156 की वार्षिक वेतनवृद्धि रोकी गई।


Desert Time

correspondent

Akhil Vyas

Akhil Vyas

%d bloggers like this: