कंटेनर पर लिखा था नामी कंपनी का नाम, अंदर भरा था कुछ और…

श्रीगंगानगर। कंटेनर पर लिखे एक नामी-गिरामी कंपनी के नाम की आड़ में गौवंश की तस्करी का मामला पकड़ मे आया है। संदेह के आधार पर जब गौरक्षा दल के कार्यकर्ताओं ने इस कंटेनर का पीछा किया तो चालक-परिचालक और गौतस्कर कंटेनर छोड़कर भाग गये। कंटेनर को खोलने पर इसमें 28 गौवंश लदा हुआ मिला जिसमें से एक की मौत हो चुकी थी। पुलिस के अनुसार जैतसर क्षेत्र में चक 5 जीबी के पास से यह कंटेनर मंगलवार देर रात गौवंश लादकर रवाना हुआ था। इसके आगे बोलेरो में दो जने तथा दो मोटरसाइकिलों पर दो-दो जने एस्कोर्ट करते हुए चल रहे थे। इस बारे में भनक लगने पर जब गौरक्षकों ने पीछा किया, तो यह सभी अपने वाहन तेज गति से दौड़ाने लगे। सूरतगढ़-अनूपगढ़ मार्ग पर तड़के लगभग तीन बजे कंटेनर को उसके चालक ने चक 1 पीपीएम की तरफ मोड़ दिया, जहां कंटेनर एक कच्चे मार्ग पर फंस गया। तब चालक-परिचालक नीचे उतर गये। उन्हें बोलेरो में बिठाकर तस्कर फरार हो गये। सुबह सवा 3 बजे पुलिस को इस मामले की जानकारी मिली, तब वह मौके पर पहुंची। बुधवार को क्रेन की सहायता से कंटेनर को सूरतगढ़ की मुख्य गौशाला में लाया गया। तब काफी संख्या में गौरक्षक व गौप्रेमी एकत्रित हो गये। राजस्व तहसीलदार फकीरचंद की मौजूदगी में कंटेनर खोलकर गौवंश को नीचे उतारा गया।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: