अब गांव बनेंगे स्मार्ट विलेज

भीलवाडा। विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने कहा कि गांवों और शहरों में गौरव पथों के निर्माण से क्षेत्रों का विकास होगा और परिवहन व्यवस्था भी सुगम बनेगी। मेघवाल गुरुवार को जिले के शाहपुरा में मुखर्जी उद्यान में आयोजित लोकार्पण व शिलान्यास समारोह के मुख्य अतिथि के रुप में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने शाहपुरा क्षेत्रा के ग्राम अरणियाघोडा में महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय उदयपुर द्वारा एक अतिरिक्त कृषि विज्ञान केन्द्र की स्थापना की घोषणा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सार्वजनिक निर्माण व परिवहन मंत्री युनूस खान ने कहा कि गांवों को स्मार्ट विलेज के रुप में विकसित करेंगे। मेघवाल ने कहा कि राज्य में केन्द्र के सहयोग से सडकों का जाल बिछाया जा रहा है। राज्य में विकास के लिये धन की कमी नहीं है और अब राज्य प्रगति कर रहा है। उन्होंने क्षेत्रा के सार्वजनिक निर्माण व परिवहन विभाग की सभी योजना पूरी करने के लिए आमजनों को आश्वस्त किया। सार्वजनिक निर्माण व परिवहन मंत्री युनूस खान ने कहा कि गौरव पथ के निर्माण से आम आदमी को गांवों में जो कीचड की समस्या का सामना करना पड रहा है उससे अब मुक्ति मिल जायेगी। उन्होंने बताया कि राज्य में 8,954 गौरव पथ बनाये जायेंगे जिनमें प्रथम चरण में 2154 व द्वितीय चरण में 2086, छह माह में तैयार हो जायेंगे। इसी प्रकार मिसिंग लिंक के लिये लगभग 800 करोड रु. की लागत से एक हजार कार्य हाथ में लिये गये हैं जिन्हें शीघ्र ही पूरा कर लिया जायेगा। कार्यक्रम में उन्होंने सरकार की विभिन्न योजनाओं जिनमें मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना, भामाशाह योजना एवं अन्य योजनाओं के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि राजमार्ग निर्माण में राज्य देश में अग्रणी राज्य के रुप में उभर रहा है। इससे पूर्व विधानसभा अध्यक्ष एवं सार्वजनिक निर्माण मंत्री ने 16 करोड 22 लाख 60 हजार रु. की लागत से 12 कार्यो के शिलान्यास तथा 5 करोड 47 लाख 46 हजार रु. के 12 कार्यो के रिमोर्ट द्वारा बटन दबाकर लोकार्पण किये। इसके साथ ही पर्यटन विकास के लिए एक कार्य के लिए 47 लाख 25 हजार रु. का शिलान्यास भी किया।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: