“संस्कारशीलता के लिए मूल्यपरक शिक्षा जरूरी”

 दीक्षांत समारोह में शिक्षाविदों ने मूल्य आधारित पाठ्यक्रम पर जोर दिया
आबू रोड। ब्रह्माकुमारीज संस्था के तत्वावधान में रविवार को शांतिवन में अन्नामलाई विश्वविद्यालय, गणपत विश्वविद्यालय भोपाल तथा यशवन्तराव चौहान विश्वविद्यालय नासिक में दूरस्थ शिक्षा के उत्तीर्ण विद्यार्थियों के लिए दीक्षांत समारोह का आयोजन हुआ। इस दौरान देशभर से आये उत्तीर्ण युवाओं को डिप्लोमा तथा डिग्री प्रदान की गयी। शिक्षाविदों ने मूल्यपरक शिक्षा की आवश्यकता जताते हुए इसे पाठ्यक्रम में अनिवार्य रूप से शामिल करने पर जोर दिया। गणपत विश्वविद्यालय भोपाल के निदेशक डा महेन्द्र शर्मा ने कहा कि ब्रह्माकुमारीज संस्था के शिक्षा प्रभाग द्वारा तैयार किए गए मूल्यों पर आधारित पाठ्यक्रम से निश्चित तौर पर युवाओं में सकारात्मक बदलाव आ रहा है। इसे देश के सभी विश्वविद्यालयों तथा कालेजों में लागू किया जाना चाहिए। यशवन्तराव चौहान खुला विश्वविद्यालय नासिक के रजिस्ट्रार डॉ. दिनेश भोण्डे ने कहा कि नासिक विश्वविद्यालय में मूल्यों को अपनाने के लिए प्रयासरत युवाओं की संख्या लगातार बढ़ रही है।अन्नामलाई विश्वविद्यालय के डीन डॉ. आर बाबू ने कहा कि सबसे पहले यह पाठ्यक्रम उनके यहां प्रारम्भ हुआ था। पिछले कई सालों में बड़ी संख्या में छात्रों का रुझान इस ओर बढ़ रहा है।


correspondent

bk komal

bk komal

%d bloggers like this: