राजस्थान की एमएसएमई नीति सबसे अच्छी

जयपुर। राजस्थान की एमएसएमई नीति को दश भर में सबसे अच्छी माना गया है। यह जानकारी फैडरेशन ऑफ इंडियन चैम्बर्स ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (फिक्की) की ओर से इंटेलेक्च्युअल प्रोपर्टी राइट्स (आईपीआर) के बारे में आयोजित जागरूकता कार्यक्रम में राज्य सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव (एमएसएमई) राजीव स्वरूप ने दी। वर्तमान समय में आईपीआर को अत्यंत महत्वपूर्ण और रेलिवेंट बताते हुए उन्होंने कहा कि इसके बारे में जागरूकता पैदा करना बहुत जरूरी है। बड़े उद्यमों की ओर से तो लीगल सैल्स शुरू किए जा चुके हैं, लेकिन मध्यम व छोटे उद्यमों को इन अधिकारों के बारे में जानकारी नहीं होने से वे इसका लाभ नहीं ले पा रहे हैं। स्वरूप ने बताया कि एमएसएमई को आईपीआर के उपयोग में प्रभावी ढंग से सक्षम बनाने के लिए भारत सरकार की ओर से सुविधाजनक ढांचा बनाया गया है और कई योजनाएं भी शुरू की गई हैं। फिक्की राजस्थान स्टेट काउंसिल के सदस्य व महिंद्रा वर्ल्ड सिटी के सीओओ संजय श्रीवास्तव ने कहा कि आईपीआर व्यापार को बढ़ाने एवं उद्यमियों को अवसर प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।


Desert Time

correspondent

Hemant Bhati

Hemant Bhati

Breaking News
%d bloggers like this: