मातृ मुत्यु की सूचना दें, मोबाइल रिचार्ज करवाएं

-स्वास्थ्य विभाग करवा रहा है 200 रूपए का रिचार्ज
श्रीगंगानगर। स्वास्थ्य विभाग की ओर से मातृ मृत्यु रिपोर्टिंग के लिए गत वर्ष शुरू की गई मोबाइल रिचार्ज योजना के प्रति आमजन का रुझान बढ़ता जा रहा है। अब तक 46 लोगों ने इस संबंध में सूचना दी है। उल्लेखनीय है कि मातृ-मृत्यु की सूचना देने पर मोबाइल पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से 200 रूपए का रिचार्ज करवाया जा रहा है। मातृ-मृत्यु की सूचना महिला की मृत्यु के 24 घण्टे के भीतर विभाग के टोल फ्री नंबर 104 पर सूचना देनी होती है और इसके बाद विभाग मातृ-मृत्यु की सत्यता जांचने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर रिचार्ज करवाकर सूचना प्रदाता को मैसेज के जरिए सूचित करता है।
सीएमएचओ डॉ. नरेश बंसल ने बताया कि विभाग ने ‘साझी कोशिश-खुशहाल मातृत्व’ के तहत यह योजना प्रारंभ की गई है। उन्होंने बताया कि 15 से 49 वर्ष की महिला की घर या रास्ते में प्रसव कारणों से मृत्यु होने पर आमजन द्वारा सूचना देने पर सूचना प्रदाता के मोबाइल पर 200 रूपए का रिचार्ज करवाया जा रहा है। इससे ज्यादा से ज्यादा मातृ-मृत्यु की सूचना विभाग के पास पहुंचेंगी। चूंकि मातृ-मृत्यु रोकने के लिए हर मातृ-मृत्यु की सूचना हासिल करना जरूरी है, और इसीलिए यह प्रयास किया गया है। जिला आईईसी समन्वयक विनोद बिश्नोई ने बताया कि गर्भावस्था, प्रसव के दौरान व प्रसव पश्चात 42 दिन के भीतर गर्भावस्था के कारणों से होने वाली महिला की मृत्यु को मातृ-मृत्यु कहते हैं।
प्रतिवर्ष करीब चार हजार से अधिक मौत
एसआरएस सर्वे के अनुसार राज्य में मातृ-मृत्यु दर 244 है, यानी प्रतिवर्ष करीब चार हजार से अधिक माताओं की मृत्यु हो जाती है। इसी मातृ-मृत्यु दर को कम करने के उद्देश्य से प्रत्येक मातृ-मृत्यु की सूचना प्राप्त कर मृत्यु के कारणों की पहचान कर इसका निवारण किए जाने के निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: