कबूतरबाजी में इटली जाकर आया युवक टावर पर चढ़ा, मांग रहा है न्याय

राष्ट्रपति से मांगी इच्छामृत्यु
श्रीगंगानगर । कबूतरबाजी में फंसकर इटली जाकर वापिस आया एक युवक ठगी के मुकदमे मेें न्याय नहीं मिल पाया तो मोबाइल टावर पर जा चढ़ा। लगभग चार घंटे तक यह नौटंकी चली। किसी तरह समझा-बुझाकर युवक को नीचे उतारा गया। उतरते ही पुलिस उसे थाने में ले गई। चूरू जिले के सालासर थाना क्षेत्र के गांव नोरंगसर में टावर पर चढऩे की यह नोटंकी सोमवार प्रात: करीब 8 बजे शुरू हुई। इसी गांव का एक युवक ओमप्रकाश मोबाइल फोन कम्पनी के टावर पर जा चढ़ा। इसका पता चलते ही कार्यवाहक थानाप्रभारी मौके पर पहुंच गये। बाद में अवर एसपी योगेन्द्र फौजदार, एसडीएम अजय आचार्य, तहसीलदार सुशील सैनी और पंचायत समिति प्रधान गणेश ढाका आदि गणमान्य लोग भी आ गये। युवक ओमप्रकाश से इन लोगों ने मोबाइल फोन के जरिये बातचीत की, तो उसने अपनी व्यथा व्यक्त की। जानकारी के अनुसार तीन-चार वर्ष पहले ओमप्रकाश कबूतरबाजों के जाल में फंस गया था। इस जाल में फंसकर वह इटली तो पहुंच गया, लेकिन उसे कथित रूप से मनमाफिक काम नहीं मिला। बताया जाता है कि वहां उसके साथ मारपीट भी हो गई थी और इटली पुलिस के चक्कर में भी फंस गया था। किसी तरह वहां से जान छुड़ाकर पिछले वर्ष वापिस अपने गांव आ गया, तब उसने कबूतरबाजों पर इटली भिजवाने और बढिय़ा काम दिलवाने का झांसा देकर लाखों रुपये ठग लेने के आरोप में मुकदमा दर्ज करवा दिया। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने इस मुकदमे में कोई ठोस कार्रवाई नहीं
की। मुकदमे में जिन लोगों को नामजद किया गया, उनमें कईं प्रभावशाली ही नहीं थे, बल्कि उनके जानकार-रिश्तेदार व परिवारजन पुलिस महकमे में भी बताये जाते हैं। इस कारण ओमप्रकाश ने न्याय न मिलने का आरोप लगाया। उसने आज उक्त अधिकारियों से बातचीत में कहा कि वह जीना नहीं चाहता। उसे राष्ट्रपति से इच्छा-मृत्यु की इजाजत दिला दी जाये। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक ओमप्रकाश को समझा-बुझाकर दोपहर लगभग साढ़े 12 बजे नीचे उतार लिया गया। इसके बाद पुलिस उसे पूछताछ करने के लिए अपने साथ थाने में ले गई।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

%d bloggers like this: