हादसों पर अंकुश के लिए यातायात नियमों की पालना जरूरीःशर्मा

राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताआें के विजेताआें एवं उल्लेखनीय कार्य करने वालों को सम्मानित किया गया।
बाड़मे। हादसां पर अंकुश के लिए यातायात नियमां की पालना जरूरी है। सड़क सुरक्षा संबंधित गतिविधियां लगातार जारी रखने का प्रयास किया जाएगा। सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान पुलिस एवं यातायात विभाग के साथ विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाआें ने सराहनीय प्रयास किए हैं। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने सोमवार को भगवान महावीर टाउन हाल में राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के समापन समारोह के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में यह बात कही। जिला कलक्टर सुधीर शर्मा ने कहा कि अठाइसवें राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान बाड़मेर जिले में कई प्रकार के नवाचार किए गए है। इस दौरान विभिन्न प्रकार के आयोजनां के जरिए आमजन तक सड़क सुरक्षा संबंधित जानकारी पहुंचाने का प्रयास किया गया। पहली बार महिला मंडल बाड़मेर आगोर की ओर से सड़क सुरक्षा संबंधित परीक्षा का आयोजन कराया गया। उन्हांने कहा कि पहली बार यातायात नियमां का उल्लंघन करने वालों को प्रशिक्षण देने का प्रावधान किया गया है। जिला कलक्टर ने कहा कि दुर्घटनाओं से बचने के लिए दुपहिया वाहन चालक गुणवक्ता युक्त हेलमेट का प्रयोग जरूर करना चाहिए। जो वाहन गिरने अथवा टकराने पर कवच का काम करता है। जिला कलक्टर शर्मा ने राष्ट्रीय सड़क सप्ताह के दौरान योगदान देने वाले कार्मिकां एवं विभिन्न संगठनां के प्रतिनिधियां का आभार जताया। इस दौरान पुलिस अधीक्षक डा.गगनदीप सिंगला ने कहा कि थोड़ी सी सावधानी बरतने से सड़क पर होने वाले हादसां को रोका जा सकता है। उन्हांने कहा कि वाहन चलाते समय हेलमेट का उपयोग करना चाहिए। वाहन की गति सीमा भी धीमी होनी चाहिए,ताकि आपातकालीन स्थिति में वाहन को समय रहते काबू में किया जा सके। उन्हांने कहा कि वाहन चालक वाहन के सभी मूल दस्तावेज अपने साथ रखने के अलावा सड़क पर लगे सांकेतिक सूचकों का ध्यान भी रखें।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: