जयपुर मैराथन : कंगना रनौत विंटेज में सवार होकर स्टेज पर पहुंची

दौड़े 60 हजार लोग, आशीष बने विजेता
जयपुर। शहर में रविवार सुबह करीब 60 हजार लोग आठवीं जयपुर मैराथन का हिस्सा बने। स्वच्छता, स्वास्थ्य और स्मार्ट सिटी के मैसेज के साथ इस मैराथन की फुल, हाफ और ड्रीम रन कैटेगरी में जयपुरवासियों का उत्साह देखते ही बना। जयपुर मैराथन में पहली बार आयोजित 42 किलोमीटर की फुल मैराथन के आशीष कुमार विजेता बने। आशीष कुमार ने दो घंटे 27 मिनट 37 सेकेंड में मैराथन पूरा करने का खिताब हासिल किया। मैराथन में 20 देशों के धावकों ने हिस्सा लिया। मैराथन में फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत की मौजूदगी भी लोंगो के बीच खासी आकर्षक रही। जयपुर मैराथन के रूट पर जयपुर के 40 हजार रनर्स के साथ भारत और 20 देशों के करीब साठ हजार रनर दौड़ते नजर आए। इनमें विभिन्न एथलीट चैम्पियनशिप, मैराथंस, यूनिवर्सिटी रन मीट के चैम्पियन भी शामिल हुए। इनमें भारत के विभिन्न राज्यों के अलावा केन्या, इथोपिया, अमेरिका, कनाडा, जर्मनी, स्विजरलैंड सहित 20 देशेां के प्रोफेशनल एथलीट ने दौड़ लगाई। ऐतिहासिक अल्बर्ट हॉल से वर्ल्ड ट्रेड पार्क तक पूरे 6 घंटे तक जयपुरवासी दौडते रहे। वर्ल्ड क्लास रूट पर शुरू से अंत तक सिर्फ रनर्स का कारवां दिखाई दिया। दिव्यांगों ने व्हीलचेयर पर तो नन्हीं बेटियों ने पिता के कंधों पर बैठकर दौड लगाई। ब्लडरनर्स और एसिड अटैक से पीडितों ने अपने साहस और खुद पर मजबूत विश्वास को मैराथन जश्न के जरिए उजागर किया। व्हीलचेयर पर 21 किलोमीटर की मैराथन में दिव्यांग देवेश भी शामिल हुए। इस मौके पर सभी लोगों ने देवेश का उत्साहवर्धन किया। व्हील चेयर पर तिरंगा लेकर देवेश ने मैराथन पूरी की। वहीं, रनर्स को चीयरअप करने में रूट पर कहीं राजस्थानी गीत और संगीत का धमाल हुआ तो कहीं पर फुल एंटरटेनमेंट पार्टी ने रनर्स को आगे बढने के लिए प्रोत्साहित किया। मैराथन में ड्रीम रन को फ्लैग ऑफ करने के लिए सुबह छह बजकर 40 मिनट पर नेशनल अवार्डी एक्ट्रेस कंगना रनौत विंटेज में सवार होकर स्टेज पर पहुंची। कंगना ने रनर्स को चीयरअप करते हुए हाथ हिलाकर अभिवादन किया। कंगना ने जयपुराइटस को फिटनेस को ऐसे ही बरकरार रखने का मैसेज दिया। कंगना ने कहा कि जयपुर से मेरा गहरा रिश्ता है। हम रनौत जयपुर से ही है। इसलिए मैं जयपुर गर्ल हूं।


Desert Time

correspondent

Hemant Bhati

Hemant Bhati

%d bloggers like this: