30 हजार में चल रहा था भ्रूण लिंग जांच का धंधा, पांच बार की कोशिश के बाद दबोचा

बूंदी। पीसीपीएनडीटी सैल द्वारा गठित 4 टीमों ने शुक्रवार को बूंदी स्थित पंजीकृत सोनोग्राफी सेन्टर में भू्रण लिंग जांच करते हुए 41 वर्षीय डॉ. अब्दुल रहीम अंसारी, सहयोगी दलाल नर्स रूकमणी देवी एवं दाई का कार्य करने वाली पार्वती पंचाल को गिरफ्तार कर सोनोग्राफी मशीन सहित दस्तावेज जब्त कर लिये हैं। मिशन निदेशक एवं राज्य पीसीपीएनडीटी सैल के समुचित प्राधिकारी नवीन जैन ने बताया कि बूंदी के खोजा गेट स्थित पंजीकृत सिटी सोनोग्राफी सेंटर में कार्यरत रेडियोलोजीस्ट डॉ. अब्दुल रहीम अंसारी द्वारा पैसे लेकर भू्रण लिंग जांच करने के घृणित कार्य की सूचना प्राप्त हुई थी। इस सूचना की पुष्टि के दौरान यह भी पता चला कि भू्रण लिंग जांच आरोपी डॉक्टर स्थानीय गर्भवती महिलाओं की बजाय बाहर की गर्भवती महिलाओं की जांच करता है एवं यह कार्य कोटा स्थित हार्ट इंस्टीटयूट में कार्यरत 40 वर्षीय दलाल नर्स रूकमणी के माध्यम से ही करता हैं। दलाल नर्स रूकमणी भी गर्भवती महिला को स्वयं लेकर जाने की बजाय अपनी दलाल सहयोगी दाई का काम करने वाली 40 वर्षीय पार्वती पंचाल के साथ कोटा से लिंग जांच करवाने हेतु बूंदी भेजती हैं। जैन ने बताया कि पीसीपीएनडीटी टीम व मुखबीर गत कई माह से दलाल नर्स रूकमणी से लगातार सम्पर्क में थे। उनसे दलाल नर्स रूकमणी ने 30 हजार रूपये में भू्रण लिंग जांच करने का सौदा तय कर 15 हजार रूपये की राशि एडवांस ले ली। एडवांस राशि लेने के बाद भी चार बार गर्भवती महिला को बुलाया व बहाना बनाकर वापस भेज दिया। शुक्रवार को पांचवी बार लिंग जांच करते समय इस गिरोह को पकडने में सफलता प्राप्त हुई है।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: