…और फोन में रिकॉर्ड हो गई आवाज, ऐनूं लै जाओ, नईं ते मर जाउगी…और वो सच में मर गई

बेटी के बाप के पास दामाद का फोन आया कि इसे ले जाओ वरना ये खुद मरेगी या मैं मार दूंगा। बस कुछ ही देर में एक फोन और आया कि वो मर गई। ये सारी बात फोन में रिकॉर्ड हो गई। अब पुलिस आगे कार्रवाई कर रही है।
श्रीगंगानगर। युवक ने व्यथित होकर अपने ससुर को फोन किया कि वह उसके यहां आकर अपनी पुत्री को ले जाये, नहीं तो वह मर जायेगी या फिर मैं उसे मार दूंगा। उसकी यह फोन कॉल ससुर के मोबाइल फोन में रिकॉर्ड हो गई। तब किसी को कोई अंदाजा नहीं था कि कुछ देर बाद क्या होने वाला है? इस फोन कॉल के महज 2-3 घंटे में ही इस युवक की पत्नी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पति और उसके परिवार का कहना है कि उन्होंने हत्या नहीं की है, बल्कि युवती ने खुद फांसी लगा ली। मृतका के पिता का आरोप है कि उसकी पुत्री को मारकर फंदे पर लटकाया गया था। उसकी रिपोर्ट पर पुलिस ने पति, देवर और देवरानी पर कत्ल का मुकदमा दर्ज कर लिया है।
क्या है मामला
हनुमानगढ़ जिले में पीलीबंगा थाना क्षेत्र के गांव अहमदपुरा में गुरुवार अपराह्न हुई इस संदिग्ध मौत की सूचना पुलिस को देर शाम मिली। कार्यवाहक थानाप्रभारी ओमप्रकाश कल्याणा ने बताया कि मृतका कुलवंत कौर (35) की शादी 13 वर्ष पहले हैप्पी सिंह मजबी के साथ हुई थी। कुलवंत कौर की छोटी बहन का भी विवाह हैप्पी के भाई के साथ हुआ था, लेकिन कुलवंत कौर की बहन और उसके पति में अनबन हो गई, जिसके चलते इनका अलगाव हो गया। बाद में कुलवंत कौर की बहन की कहीं ओर शादी कर दी गई। कुलवंत कौर के देवर ने भी दूसरी शादी कर ली।
रिश्तों में दरार
कुलवंत कौर-हैप्पी सिंह ने भी पिछले कुछ समय में सम्बंध सामान्य नहीं थे। इनकी चार संतानें हैं। कुलवंत कौर गृहक्लेश के कारण मानसिक रूप से
परेशान रहती थी। कुलवंत कौर के पिता बलविन्द्र सिंह निवासी चक 29 एसटीजी ने पुलिस को दी रिपोर्ट में बताया कि हैप्पी सिंह उसकी पुत्री को मारता-पीटता था। इस कारण वह दु:खी रहती थी। कुलवंत कौर ने अपने भाई सुरजीत सिंह को फोन कर बताया कि हैप्पी उसे तंग-परेशान कर रहा है। दोपहर लगभग एक बजे खुद हैप्पी सिंह ने बलविन्द्र सिंह को फोन कर उलाहना दिया कि अब उससे बर्दाश्त नहीं होता। न जाने उसे किसके पल्ले बांध दिया है। या तो यह (कुलवंत कौर) खुद मर जायेगी या फिर मैं मार दूंगा। कुलविन्द्र के मुताबिक लगभग साढ़े 4 बजे उसके पास फोन आया कि कुलवंत कौर
की मौत हो गई है।
चारपाई पर मिली मृत
वह तुरंत अहमदपुरा गया तो घर के एक कमरे में चारपाई पर कुलवंत कौर मृत पड़ी थी। गांव के सरपंच ने थाने में सूचना दी कि उनके गांव में संदिग्ध मौत हो गई है। वे जब घटनास्थल पर पहुंचे, तब कुलवंत कौर का शव चारपाई पर पड़ा था। उसके गले पर नील के निशान थे। मौके पर ही बलविन्द्र सिंह द्वारा दी गई रिपोर्ट के आधार पर हैप्पी सिंह, उसके भाई काका सिंह व काकासिंह केी पत्नी पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया।


correspondent

Sanjay Sethi

Sanjay Sethi

Breaking News
%d bloggers like this: