ग्रामीण युवा महोत्सव 6 फरवरी से

प्रतापगढ़। राजस्थान राज्य क्रीड़ा परिषद की ओर से जिले में ग्रामीण युवा महोत्सव का आयोजन 6 फरवरी से किया जाएगा। महोत्सव में पहले ब्लॉक एवं बाद में जिला स्तर पर खेल व सांस्कृतिक प्रतियोगिताएं होंगी। जिला कलक्टर नेहा गिरि ने बताया कि परिषद की ओर से राज्य के जनजाति क्षेत्रा में छह जिलों में ग्रामीण युवा महोत्सव अंतर्गत जनजाति खेल व सांस्कृतिक प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है, जिनमें प्रतापगढ भी शामिल है। जिले की अरनोद, पीपलखूट, धरियावद, छोटी सादड़ी व प्रतापगढ पंचायत समितियों में 6 फरवरी से 10 फरवरी तक विभिन्न प्रतियोगिताएं होंगी। 11 से 12 फरवरी को जिला स्तरीय ग्रामीण युवा महोत्सव होगा। इसके बाद 25 से 27 फरवरी को बांसवाड़ा मंे राज्य स्तरीय ग्रामीण युवा महोत्सव का आयोजन किया जाएगा। महोत्सव में एथलेटिक्स, फुटबाल, तीरंदाजी, हॉकी, हैंडबाल, कबड्डी, खो-खो, वालीबॉल खेल प्रतियोगिताएं होंगी। सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं में फॉक नृत्य, फॉक गायन, शास्त्राीय एकल नृत्य, शास्त्राीय एकल गायन, वाद्य यंत्रा बांसुरी, वाद्य यंत्रा हारमोनियम व ढोलक वादन तथा आशु भाषण प्रतियोगिताएं होंगी। प्रतियोगिता के लिए आवेदन जिला खेल अधिकारी एवं समस्त पंचायत समिति मुख्यालयों पर किए जा सकते हैं। आवेदक खिलाड़ियों को आवेदन के साथ अपने बैंक अकाउंट की डिटेल या बैंक पास बुक की प्रतिलिपि भी संलग्न करनी है ताकि पुरस्कार की राशि उनके खातों में आरटीजीएस के जरिए जमा कराई जा सके। जिला खेल अधिकारी गिरधारी सिंह चौहान ने बताया कि प्रतियोगिताएं सवेेरे 8 बजे से शाम पांच बजे तक होंगी। 16 वर्ष की आयु के विद्यार्थी खेल प्रतियोगिताओं में तथा 10 से 25 वर्ष आयु के विद्यार्थी सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं में भाग ले सकेंगे। आवेदन के साथ जन्म प्रमाण पत्रा अथवा स्कूल या सरपंच की ओर से जारी जन्मतिथि युक्त प्रमाण पत्रा लगाना होगा। खिलाड़ियों से पंजीयन फॉर्म भरवाए जाएंगे, जिससे युवाओं का डेटाबेस तैयार हो सके। राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में अव्वल रहने वाले विद्यार्थियों को राष्ट्रीय युवा जनजाति महोत्सव में शामिल होने का अवसर मिलेगा।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: