आर्किटेक्ट स्टोन उत्पादकों व उपभोक्ताओं को जोड़ने की महत्वपूर्ण कड़ी- खान

जयपुर। सार्वजनिक निर्माण एवं परिवहन मंत्री यूनुस खान ने वास्तुविदों का आह्वान किया है कि वे प्रोजेक्ट को समय पर पूरा करने के लिए ‘रेडी टू यूज’ टाइल्स के उपयोग, फिक्सिंग के लिए ड्राइ तकनीक अपनाने एवं और अधिक बेहतर सौन्दर्यपरक तकनीकों के विकास की दिशा में विचार करें जिससे स्टोन इंडस्ट्री समेत पूरे निर्माण उद्योग को और गति मिल सके। खान गुरूवार से जयपुर में प्रारम्भ हुए नवें इंडिया स्टोनमार्ट-2017 आयोजन के दौरान ‘जयपुर आर्किटेक्चर फेस्टिवल‘ के द्वितीय संस्करण के उद्घाटन सत्र को मुख्य अतिथि के रूप में सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि स्टोनमार्ट के दौरान आर्किटेक्चर फेस्टिवल का आयोजन इसे और भी उपयोगी बना देता है, क्योंकि आर्किटे्रक्ट स्टोन के उत्पादक और उपभोक्ताओं को जोड़ने वाली महत्वपूर्ण कड़ी हैं। इस मंच पर विश्वभर से आए स्टोन उत्पादकों, आर्किटेक्ट्स में आपसी विचारों, तकनीकी ज्ञान, उत्पादों की मांग और उनकी उपलब्धता, नए टे्रन्ड्स की जानकारी के आदान-प्रदान से उन्हें स्वयं तो लाभ मिलता ही है, पूरी अर्थव्यवस्था को दिशा मिलती है। सेंटर फोर डवलपमेंट ऑफ स्टोन्स (सीडोस) एवं फिक्की को यह मंच प्रदान करने के लिए साधुवाद देते हुए श्री खान ने बताया कि तेजी से उभरती भारतीय अर्थव्यवस्था में निर्माण उद्योग एवं आधारभूत संरचना के विकास का बड़ा योगदान है। देश का 90 प्रतिशत मार्बल और सैण्ड स्टोन, 100 प्रतिशत सर्पेन्टाइन और 80 प्रतिशत डाइमेंशनल लाइमस्टोन राजस्थान उत्पादित कर रहा है। राज्य सरकार द्वारा आवास निर्माण, स्मार्ट सिटीज के विकास और आधारभूत संरचनाओं के विकास के क्षेत्र में उठाए गए कदमों के कारण स्टोन की घरेलू मांग भी कई गुना होने जा रही है। उन्होंने भारतीय शिल्पकारों और दस्तकारों, भवन निर्माताओं के शिल्प को अद्वितीय एवं भारतीय स्टोन की गुणवत्ता को विश्वस्तरीय बताया। आर्किटेक्ट श्री दुर्गानन्द बलसावर ने कहा कि जयपुर ने अपनी स्थापना के समय से ही वास्तुविद, शिल्पकारों, शासन और योजनाकारों को साथ कार्य करने के लिए एक मंच प्रदान किया है। इंडियन इन्स्टीट्यूट ऑफ आर्किटेक्ट्स के अध्यक्ष श्री दिव्यकुश ने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट में आर्किटेक्ट को शामिल किए जाने और इस विषय के एक विश्वविद्यालय की स्थापना की आवश्यकता बताई। कौंसिल ऑफ आर्किटेक्ट के उपाध्यक्ष श्री विजय गर्ग ने भी आयोजन को सार्थक बताया।


Desert Time

correspondent

Hemant Bhati

Hemant Bhati

Breaking News
%d bloggers like this: