भगवान को पूजारी ने गिनाए काम

मुस्कुरा के मिलो, खुशियां आएंगी

सूबे की मुख्यमंत्री को पहले तो नर में नारायण दिखा और खुद में पूजारी के भाव आए। बाद में पूजारी यानी सीएम ने नारायण यानी जनता को एक-एक कर के कई काम गिना दिए कि तुम्हारे लिए वो किया- ये किया। मौका था राजे की बाड़मेर यात्रा और खेमाबाबा के दर्शन।

बाड़मेर। नर में नारायण और खुद को पूजारी बताते हुए आज सूबे की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे बाड़मेर पहुंची। वे यहां बायतु चिमनजी में खेमाबाबा मंदिर के प्राण-प्रतिष्ठा एवं भागवत कथा महोत्सव में शामिल होने आई। उपस्थित श्रद्धालुओं को सम्बोधित करते हुए राजे ने कहा कि जनता भगवान है और हम जनता के सच्चे पुजारी। सौर ऊर्जा, भामाशाह योजना, कौशल विकास, स्वच्छ भारत अभियान आदि क्षेत्रों में राजस्थान अग्रणी है। ईश्वर की कृपा संत-महात्माओं के आशीर्वाद तथा कड़ी मेहनत से हम कामयाब होंगे।
मनोकामनाएं होंगी पूर्ण
राजे ने खुशी का इजहार करते हुए कहा कि खेमाबाबा के दर्शन मात्र से ही लोगों की मनोकामएं पूरी हो जाती हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन तीन वर्षां में प्रयास रहा है कि अच्छे से अच्छा काम हो और उनके ठोस परिणाम सामने आएं। हम इस दिशा में बहुत हद तक सफल भी हुए हैं और आज प्रदेश तरक्की के नए दौर से गुजर रहा है।
दूरी कम करने की बात
उन्होंने कहा कि हमने जनता और सरकार के बीच की दूरी को कम कर विकास में लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की है। इसके कारण ही लोगों की आकांक्षाओं के अनुरूप विकास साकार हो पाया है। राजे ने कहा कि तीन साल में बाड़मेर में विकास के कई बड़े काम हुए हैं। जिनका फायदा यहां के लोगों को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि तीन साल में बाड़मेर जिले में करीब 8 हजार 500 करोड़ रुपये के विकास कार्यों की सौगात मिली है। इनमें 75 करोड़ की लागत से 48 नए 33 केवी जीएसएस, 68 करोड़ रुपये के ग्रामीण एवं शहरी गौरव पथ, करीब 28 करोड़ रुपये से मॉडल स्कूल भवन निर्माण कार्य, 470 करोड़ रुपये से स्वीकृत दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजनाए शिव रामसर के 205 गांवों की 640 करोड़ रुपये की नर्मदा नहर आधारित पेयजल परियोजनाएं जिले के 180 गांवों को लाभान्वित करने के लिए 177 करोड़ रुपये की उम्मेदसागर-धवा-समदड़ी-खण्डप भाग तृतीय जलदाय परियोजनाएं 189 करोड़ रुपये से मेडिकल कॉलेज निर्माण सहित अन्य विकास कार्य शामिल हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि बाड़मेर क्षेत्र में सड़क निर्माण के क्षेत्र में प्रदेश में सबसे ज्यादा काम हो रहे हैं। जिनमें करीब 300 करोड़ रुपये से निर्माणाधीन जैसलमेर-बाड़मेर राष्ट्रीय राजमार्ग, 167 करोड़ रुपये से निर्मित बागुण्डी-बाड़मेर नेशनल हाईवे संख्या-112ए करीब 345 करोड़ रुपये से बाड़मेर-सांचोर राष्ट्रीय राजमार्ग के काम शामिल हैं। इसके अलावा सिवाना-जालौर-साण्डेराव सड़क तथा चवा-फलसूंड-पोखरण के काम भी जल्द ही शुरू होंगे। पीएमजीएसवाई के तहत जिले में 153 सड़कें बन रही हैं।
भारतमाला परियोजना
इसके अलावा सीमावर्ती क्षेत्र को सड़कों से जोड़ने की भारतमाला परियोजना के तहत 1375 करोड़ रुपये से मुनाबाव-घोटरू- तनोट-किशनगढ़ के बीच 275 किलोमीटर लम्बी सड़क तथा 625 करोड़ रुपये से गागटिया-भाकासर के बीच 125 किमी लम्बे सड़क निर्माण कार्य का फायदा भी जिले को मिलेगा। राजे ने कहा कि आज की दुनिया में हर व्यक्ति जल्दबाजी में है। किसी के पास मुस्कुराकर मिलने का समय भी नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर हर व्यक्ति दिनभर में पांच लोगों से मुस्कुराकर मिलेगा तो सभी जगह खुशियां ही खुशियां नजर आएंगी। उन्होंने कहा कि हर समाज को एक-दूसरे समाज का सहयोग करना चाहिए। इससे पूर्व राजे ने खेमाबाबा धाम के दर्शन किए और प्रदेश की खुशहाली की कामना की।


correspondent

barmer

barmer

%d bloggers like this: