पकड़ी गई ट्रांसफार्मर चोरी करने वाली गेंग

सन 2011 से लगातार इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रही है ये गेंग। इससे पहले चिकसाना ईलाके में डीपी चोरी करते समय एक शख्स की करंट से दो अंगूली भी जल गई थी। उसके बाद भी वारदात करना नहीं छोडा। हाल ही में से गेंग हिण्डौन में ट्रांसफार्मर चोरी करने  पहुंची थी। पुलिस को गेंग के पास से डीपी खोलने के उपकरण व अन्य सामान भी बरामद हुआ है। 
अजय शर्मा की रिपोर्ट
करौली। जिले में हिण्डौन कोतवाली पुलिस ने रविवार को एक बडी कार्रवाई कर ट्रांसफार्मर चोरी करने वाली गेंग का पर्दाफाश कर तीन जनों को गिरफतार किया है। आरोपियों के कब्जे से डीपी खोलने के उपकरण व अन्य सामान भी बरामद किया है। हिण्डौन कोतवाली थानाधिकारी शिव कुमार भारद्वाज ने बताया कि हिण्डौन में बिजली के ट्रांसफार्मर चोरी करने वाली गेंग के बारे में जानकारी मिली कि वो रेलवे स्टेशन के आस पास रूकी हुई है।
बाईक पर आए थे
जांच के दौरान तीन संदिग्ध व्यक्ति एक मोटरसाईकिल पर नजर आए। पकड़े जाने के बाद तलाशी में उनके पास से रबड के दस्ताने, डीपी खोलने के उपकरण आदि सामान पाया गया। जिसके बाद इन्हें थाने लाकर कडाई से पूछताछ की गई।
भरतपुर से आई गेंग
पुलिस पूछताछ में इन्होंने अपना नाम जीतेन्द्र उर्फ जीतू जाट, होशियार सिंह पुत्र हाकिम सिंह, जोगेन्द्र उर्फ जुगला पुत्र बनवारी लाल बताया जो कि तीनों भरतपुर जिले के रहनेे वाले है। सीआई शिव कुमार ने बताया कि तीनों आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह भरतपुर से हिण्डौन ट्रांसफार्मर चोरी करने आए थे और आज रात को मण्डावरा में स्कूल के पास ट्रांसफार्मर चोरी करने का इरादा बताया।
पहले से दर्ज है कई मामले
पुलिस को पता चला है कि इनके खिलाफ भरतपुर जिले के विभिन्न थानो में कई प्रकार के मामले भी दर्ज है। गेंग का मुख्य सरगना जीतू उर्फ जीतेन्द्र सिंह है जो कि सन 2011 से लगातार इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहा है और चिकसाना ईलाके में डीपी चोरी करते समय जब करंट से दो अंगूली खराब हो गई थी उसके बाद भी वारदात करना नहीं छोडा है। पुलिस को यह भी शक है कि हिण्डौन में इस गेंग का कोई सदस्य है जो इन्हें यहां बुलाता है और चोरी करवाता है जिसकी जांच पडताल की जा रही है।

correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: