एफआरटी सेवा से आमजन को मिलेगी राहत

बाड़मेर।
जिला मुख्यालय पर एफआरटी सेवा प्रारंभ होने से आमजन को राहत मिलेगी। इससे विद्युत संबंधित समस्याआें का त्वरित गति से समाधान हो सकेगा। राजस्व राज्यमंत्री अमराराम चौधरी ने गुरूवार को जिला मुख्यालय पर जोधपुर डिस्काम की एफआरटी सेवा के शुभारंभ के अवसर पर कही। इसके तहत उपभोक्ता अब टोल फ्री दूरभाष 1800-180-6045 पर विद्युत संबंधित समस्या का समाधान करवा सकते है।इस अवसर पर राजस्व राज्यमंत्री अमराराम चौधरी ने कहा कि एफआरटी सेवा प्रारंभ करने वाली कंपनी सेवा की भावना से कार्य करने के साथ आमजन को अधिकाधिक राहत दिलाने के प्रयास करें। एफआरटी की शुरूआत से मौजूदा समय में कम स्टाफ की वजह से दिक्कतां का सामना कर रहे डिस्काम को भी राहत मिलेगी। उन्हांने कहा कि मौजूदा गर्मी के मौसम में कई बार विद्युत संबंधित फाल्ट स्टाफ की कमी के चलते अथवा कार्य की अधिकता के चलते देरी से दुरस्त हो पाता है। ऐसे में एफआरटी की सेवाआें की बदौलत अधिकाधिक विद्युत संबंधित समस्याएं अधिकतम दो घंटे की अवधि में निस्तारित कर दी जाएगी। उन्हांने कहा कि बाड़मेर में बेहतरीन सेवाएं मिलने के बाद एफआरटी की सेवाएं बालोतरा में भी प्रारंभ करवाने के प्रयास किए जाएंगे। उन्हांने कहा कि बाड़मेर जिला जोधपुर एवं प्रदेश के अन्य बड़े शहरां की तरह विकास कर रहा है। राज्य सरकार बाड़मेर के विकास को लेकर बेहद गंभीर है। शुभारंभ समारोह में जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल, यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चौधरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई, डिस्काम के पूर्व एमडी बी.डी.मालू, उपखंड अधिकारी एच.आर.मेहरा, अधीक्षण अभियंता जी.आर.सिरवी, अधिशाषी अभियंता मांगीलाल जाट, कंपनी के मैनेजर हरफूल सिंह समेत जन प्रतिनिधि एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।समारोह में यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चौधरी ने कहा कि विद्युतापूर्ति में पहले की अपेक्षा काफी सुधार हुआ है। फिर भी कई बार फाल्ट के कारण उपभोक्ताआें को दिक्कतां का सामना करना पड़ता है। राज्य सरकार ने एफआरटी के जरिए विद्युत संबंधित समस्याआें के समाधान की शुरूआत की है। इससे आमजन को खासी राहत मिलेगी। उन्हांने कहा कि कंपनी उनको सौंपी गई जिम्मेदारी को बखूबी निभाने के साथ त्वरित गति एवं बेहद कम समय में विद्युत संबंधित समस्याआें का निस्तारण करें। उन्हांने कहा कि एफआरटी के टोल फ्री नंबर का अधिकाधिक प्रचार-प्रसार करें,ताकि आमजन को इसका वास्तविक फायदा मिल सके।इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई ने कहा कि डिस्काम को स्टाफ की कमी एवं लंबी विद्युत लाइनां के कारण फाल्ट होने की स्थिति में कई बार इसको दुरस्त करने में काफी समय लग जाता है। एफआरटी की शुरूआत से डिस्काम के साथ आम उपभोक्ताआें को खासी राहत मिलेगी। डिस्काम के अधीक्षण अभियंता गोपाराम सिरवी ने कहा कि एफआरटी की सेवाएं बाड़मेर जिला मुख्यालय पर दो सब डिविजन नए एवं पुराने पावर हाउस से संचालित होगी। यहां दो टीमें लगातार चौबीस घंटे मय तीन पारियां में कार्मिकां की सेवाआें के साथ तैनात रहेगी। टीमां के पास वाहन के साथ अत्याधुनिक विद्युत उपकरण भी उपलब्ध रहेगे। ताकि कम समय में उपभोक्ताआें की विद्युत संबंधित समस्याआें का निस्तारण किया जा सके। इस दौरान राजस्व राज्यमंत्री अमराराम चौधरी, जिला प्रमुख श्रीमती प्रियंका मेघवाल, यूआईटी चैयरमैन डा.प्रियंका चौधरी, अतिरिक्त जिला कलक्टर ओ.पी.बिश्नोई एवं अधीक्षण अभियंता जी.आर.सिरवी ने एफआरटी के वाहनो को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।दो घंटे में ऐसे होगा विद्युत समस्याआें का समाधानः टोल फ्री नंबर 1800-180-6045 पर शिकायत दर्ज होते ही उपभोक्ताआें को एसएमएस के माध्यम से शिकायत संख्या प्राप्त होगी। यह शिकायत कस्टमर केयर सेंटर के माध्यम से तुरंत एफआरटी टीम तक पहुंच जाएगी। इसके पश्चात एफआरटी टीम शिकायत दर्ज होने के अधिकतम दो घंटे के भीतर विद्युत समस्या का निवारण करेगी। शिकायत निवारण के बाद उपभोक्ताआें को काल करके सेवा की गुणवत्ता की जांच की जाएगी। उन्हांने बताया कि इस नवीन व्यवस्था से बाड़मेर शहर के उपभोक्ताआें की विद्युत संबंधित समस्याआें का दो घंटे के भीतर समाधान हो सकेगा। इससे बाड़मेर शहर के 36 हजार उपभोक्ता लाभांवित होंगे। जयपुर, जोधपुर एवं अन्य बड़े शहरां की तर्ज पर इंटेलनेट ग्लोबल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी गुड़गांव हरियाणा को संविदा पर इसका जिम्मा दिया गया है।

correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

Breaking News
%d bloggers like this: