पैनिक बटन दबाते ही मिलेगी सहायता

जयपुर।
रोडवेज बसों मे महिलाओं के साथ बढती आपराधिक वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए अब राजस्थान रोडवेज की ओर से महिला गौरव एक्सप्रेस की शुरूआत की गई है जिसमें एक पैनिक बटन लगा होगा और यह पैनिक बटन दबाते ही महिलाओं को सहायता मिल जाएगी। केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गड़करी ने दिल्ली के बीकानेर हाऊस से इस पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत की है। इन बसों में महिलाओं को तत्काल सहायता के लिए इन बसों में व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम, दो सीसीटीवी कैमरा और पैनिक बटन की सुविधाएं रखी गई हैं। कैमरों में से एक स्टिल और एक वीडियो कैमरा है।बस में ड्राइवर की सीट के पीछे लाल रंग का पैनिक बटन लगा है और ये बटन व्हीकल ट्रैकिंग सिस्टम से जुड़ा हुआ है। दबते ही ये बटन रोजवेज के जयपुर मुख्यालय के केंट्रोल रूम व डिपो प्रबंधक के कमरे में मैसेज के रूप में सूचना देगा।सूचना में गाड़ी का नम्बर और इसकी वर्तमान स्थिति आएगी। वहीं यात्रियों की तरफ दो सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। ये कैमरे कंट्रोल रूम में बस की फोटो भेजेंगे। इससे यात्री को तुरन्त प्रभाव से आवश्यक मदद उपलब्ध कराई जाएगी।शुरुआती दौर में बीस बसों में से 10 डीलक्स और 10 सुपर डीलक्स बसों में यह सिस्टम शुरू किया गया है।


Desert Time

correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: