शनि जयंती 4 जून को

इंदौर। जूनी इंदौर के प्राचीन शनि मंदिर में इस बार 4 जून को शनि जयंती पर तेल से पहला अभिषेक 200 महिलाएं करेंगी। अभी तक यह कार्य आयोजन समिति और मंदिर के पुरुष सदस्य करते थे। शनि शिंगणापुर में तेलाभिषेक की वर्षों पुरानी परंपरा में हुए बदलाव के बाद यह कदम उठाया गया है।

मंदिर के पुजारी व शनि जयंती आयोजन समिति के प्रमुख मधुसूदन तिवारी के मुताबिक शनि जयंती पर खासतौर पर महिलाओं को निमंत्रण दिया जाएगा। इसमें घरेलू, कामकाजी और नौकरीपेशा महिलाओं के अलावा महापौर मालिनी गौड़, विधायक उषा ठाकुर आदि शामिल हैं।

विशेष हवन कुंड बनाएंगे

हर साल सूर्य मंदिर परिसर में चार से पांच हवन कुंड बनाए जाते हैं। इस बार एक हवन कुंड खास तौर पर महिलाओं के लिए तैयार किया जाएगा, जहां दिनभर में दो से तीन हजार महिलाएं बारी-बारी से शनि शांति महायज्ञ में आहुतियां देंगी।

26 मई से 2 जून तक संगीत समारोह

26 मई से 2 जून तक शनि जयंती महोत्सव के उपलक्ष्य में अखिल भारतीय संगीत समारोह का आयोजन होगा। इसमें ख्यात संगीतज्ञ प्रस्तुतियां देंगे।

महिला समानता का संदेश देने के लिए छोटी सी पहल

शनि शिंगणापुर में महिलाओं को जो अधिकार मिला उससे प्रेरित होकर इस बार शनि जयंती पर हम महिलाओं को प्राथमिकता दे रहे हैं। शनि देव को तेल का अभिषेक सबसे पहले 200 महिलाओं द्वारा किया जाएगा। इस छोटी सी पहल के माध्यम से हम महिलाओं को समानता व सक्षमता का संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं।

-कविता तिवारी, एडवोकेट व सदस्य आयोजन समिति


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

Breaking News
%d bloggers like this: