लोकतंत्र का नकाब पहने फासिस्ट है भाजपा : गहलोत

सिरोही । दो दिवसीय दौरे पर दिल्ली से उदयपुर होते हुए सिरोही पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री अशोह गहलोत ने स्थानीय सर्किट हाउस में पत्रकारों से रूबरू होकर कहा कि पांच राज्यों के आए चुनाव नतीजों में मात्र असम में जीतकर भाजपाई फूले नहीं समा रहे है। उन्होंने कहा कि 1984 के लोकसभा चुनावों में जब भाजपा मात्र दो सीटों पर विजय हुई थी तब भी कांग्रेस ने भाजपा मुक्त भारत की बात नहीं की थी, क्योंकि हम लोकतंत्र में विश्वास रखते है और यह कांग्रेस मुक्त की बात करते है। वास्तव में यह लोग लोकमंत्र का मुखौटा ओड़े हुए फासिस्ट है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा देश की विचारधारा है। हमारी संस्कृति में समरसता बसी है और वहीं समरसता कांग्रेस की विचारधारा में है। भारतीय जनता पार्टी वोटो की धु्रवीकरण की राजनीति करती है, जो देश के लिए संप्रदायिक रूप से खतरनाक है। गहलोत ने प्रदेश को लेकर कहा कि प्रदेश में प्रचंड बहुमत से बनी सरकार उसके बावजूद भी विकास के कार्य नहीं हो रहे है। जगह-जगह भाजपा के लोग अव्यवस्था फैलाने में लगे है। मंत्री व विधायक तक भ्रष्टाचार में लिप्त है, लेकिन कार्यवाही के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा है। उन्होंने सिरोही चिकित्सालय का उदाहरण देते हुए कहा कि संयम लोढ़ा द्वारा उच्च न्यायालय में पीएलआई लगाने के बाद चिकित्सकों की नियुक्ति हुई। अब जनहित के कार्यों के लिए पीएलआई लगाने की आवश्यकता पड़ रही है। सरकार कितनी निष्क्रिय हो चुकी है। उन्होंने कहा कि इन्हीं मुद्दों को लेकर कांग्रेस आने वाले चुनावों में उतरेगी। रिफाईनरी को लेकर उन्होंने कहा कि स्थिति आप लोगों के सामने है। हमारी सरकार की ओर से अथक प्रयास कर रिफाईनरी लाई गई और यह लोग इसे ठंडे बस्ते में डाल लाखों युवाओं के रोजगार के साथ खिलवाड़ कर रहे है।

correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: