नागणेचेजी मंदिर विस्तार परियोजना की समीक्षा

?

 

बीकानेर।

राजस्थान धरोहर संरक्षण एवं प्रोन्नति प्राधिकरण के अध्यक्ष ओंकार सिंह लखावत ने कहा कि नागणेचेजी मंदिर परिसर विस्तार परियोजना का निर्माण कार्य गुणवत्ता के साथ समयबद्ध रूप से पूर्ण किया जाए। लखावत सोमवार को नागणेचेजी मंदिर परिसर में विस्तार परियोजना के निर्माण कार्य की प्रगति का निरीक्षण कर रहे थे। इस अवसर पर महापौर नारायण चोपड़ा, कार्यवाहक जिला कलक्टर बी एल मेहरड़ा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) हरिप्रसाद पिपरालिया, आरएसआरडीसी के अधिशासी अभियंता सतीश शर्मा, देवस्थान विभाग के सहायक आयुक्त ओ पी पालीवाल भी उनके साथ थे। लखावत ने कहा कि नागणेचेजी मंदिर की भूमि का ढंग से चिन्हीकरण कर वहां तारबंदी करवाई जाए। उन्होंने न्यास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे मंदिर के पास स्थित नाले का आवश्यकतानुसार टेम्परेरी डाईवर्जन कर,ें जिससे वहां दीवार बनाई जा सके। उन्होंने प्रोग्रेस चार्ट का अवलोकन करते हुए कहा कि निर्माण कार्य की गति बढ़ाई जाए। आरएसआरडीसी  के अधिशासी अभियंता ने बताया कि आगामी दो माह में छत तक का निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा।

बनेगा आकर्षक पार्क- लखावत ने बताया कि मंदिर के निकट की खाली भूमि पर आकर्षक पार्क का निर्माण करवाया जाएगा। उन्होंने न्यास अधिकारियों को निर्देश दिए कि पार्क के सम्बन्ध में लेण्डस्कैपिंग डिजाइन, आगामी दो सप्ताह में तैयार की जाए। उन्होंने कहा कि निर्माण स्थल के नीचे सीवरेज या अन्य किसी भूमिगत लाइन को निर्माण के दौरान क्षति न पहुंचे, इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए। विस्तार परियोजना में उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री का प्रयोग सुनिश्चित किया जाए। लखावत ने मंदिर में प्रस्तावित लिफ्ट कार्य की प्रगति की जानकारी लेते हुए निर्देश दिए कि आगामी दो दिन में इसकी डिजाइन तैयार कर प्रस्तुत की जाए। उन्होेंने यहां पार्किंग व शौचालय आदि के लिए चिन्हित स्थानों का भी अवलोकन किया। लखावत ने अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) को देशनोक में निर्माणाधीन श्री करणीमाता पैनोरमा के निर्माण कार्य के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

पैनोरमा का होगा निर्माण – लखावत ने बताया कि बीकानेर में महाकवि पृथ्वीराज राठौड़ पैनोरमा का निर्माण भी किया जाएगा। उन्होंने न्यास अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे इसके लिए भूमि चिन्हीकरण का कार्य करें। इस अवसर पर विजय आचार्य, पार्षद भगवती प्रसाद गौड, मंदिर समिति के हनुमानप्रसाद शर्मा, प्रेम वशिष्ठ, न्यास के अधिशासी अभियंता किशन सिंह सहित विभिन्न अधिकारी उपस्थित थे।


correspondent

DesertTimes.in

DesertTimes.in

%d bloggers like this: